40.5 C
Jabalpur
May 20, 2022
Seetimes
National

चक्रवाती तूफान ‘असानी’ का असर, आंध्र प्रदेश में भारी बारिश

विशाखापत्तनम, 11 मई (आईएएनएस)| भयंकर चक्रवाती तूफान ‘असानी’ के चलते आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके और रायलसीमा क्षेत्रों में बुधवार को तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है। लेकिन बंगाल की खाड़ी में यह तूफान कमजोर पड़ गया है। बुधवार सुबह चक्रवाती तूफान मछलीपट्टनम से लगभग 50 किमी दक्षिण-पूर्व, काकीनाडा से 150 किमी दक्षिण-पश्चिम और विशाखापत्तनम से 290 किमी दक्षिण-पश्चिम में केंद्रित था।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, चक्रवाती तूफान दोपहर से शाम के दौरान नरसापुर, यनम, काकीनाडा, तुनी और विशाखापत्तनम तटों से होकर गुजरेगा। इसके बाद तूफान के रात में उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटों से पश्चिम बंगाल की खाड़ी की ओर बढ़ने की संभावना हैं।

आंध्र प्रदेश के उत्तर तटीय क्षेत्रों के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश, तो कुछ जगहों पर भारी बारिश होने की संभावना बनी हुई हैं।

आंध्र प्रदेश के तट पर 55-65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। बुधवार को हवा की रफ्तार बढ़ने की संभावना बनी हुई है। मौसम विभाग की मानें तो आंध्र प्रदेश तट कृष्णा, पूर्व और पश्चिम गोदावरी, पुडुचेरी और विशाखापत्तनम जिलों में 70-80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। हालांकि गुरुवार की सुबह तक हवा की गति घट जाएगी।

आईएमडी ने कहा कि भयानक तूफान और बारिश के कारण आंध्र प्रदेश के पूर्वी और पश्चिम गोदावरी जिले और पुडुचेरी के यनम के निचले इलाकों में पानी भरने की संभावना है।

सभी तटीय जिलों को अलर्ट पर रखा गया है। अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) की नौ टीमों को तुरंत प्रभावित जिलों में भेजा गया है।

अन्य ख़बरें

पटियाला कोर्ट में आज सरेंडर करेंगे सिद्धू

Newsdesk

ज्ञानवापी मस्जिद में जूमे की नमाज में ज्यादा संख्या में आने से बचें नमाजी, अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी की अपील

Newsdesk

धर्म छुपाकर महिला फिजियोथैरेपिस्ट को जाल में फंसाया

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy