30.5 C
Jabalpur
June 26, 2022
Seetimes
Headlines Technology

रैनसमवेयर, आईपी और डेटा चोरी भारतीय फार्मा फर्मो की प्रमुख चिंताएं

मुंबई, 23 जून (आईएएनएस)| रैंसमवेयर हमले और आईपी और डेटा चोरी भारत में फार्मा कंपनियों के लिए शीर्ष साइबर सुरक्षा चिंताएं हैं। गुरुवार को एक नई रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है।

डेलॉयट इंडिया-डेटा सिक्योरिटी काउंसिल ऑफ इंडिया (डीएससीआई) की रिपोर्ट के अनुसार, महामारी और लक्षित हमलों की बढ़ती संख्या ने कुछ फार्मा कंपनियों को अपने साइबर सुरक्षा निवेश को दोगुना करने के लिए प्रेरित किया है।

डेलॉइट इंडिया में साइबर के पार्टनर और लीडर, गौरव शुक्ला ने कहा, “इस डिजिटल दृष्टि को बढ़ाने और विश्व स्तर पर विश्वास बनाने में सक्षम होने के लिए, फार्मा क्षेत्र के साइबर सुरक्षा को एक प्रमुख लीवर के रूप में पहचानना चाहिए, जो डेटा, ऑपरेशनल टेक्न ॉलोजीस (ओटी) और आपूर्ति श्रृंखला के आसपास सुरक्षा को बढ़ाने की दिशा में काम कर रहा है।”

शुक्ला ने कहा, “व्यापार और डिजिटल परिवर्तन के लिए साइबर सुरक्षा का उपयोग करने की यह क्षमता फार्मा संगठनों को एक नेता से एक विश्वसनीय नेता के रूप में परिवर्तन करने में मदद कर सकती है।”

प्रमुख फार्मा कंपनियों के लिए, 2019 और 2021 के बीच साइबर सुरक्षा निवेश में न्यूनतम 25 से 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

महामारी और लक्षित हमलों की बढ़ती संख्या ने कुछ फार्मा कंपनियों को पिछले 18 महीनों में अपने साइबर सुरक्षा निवेश को दोगुना करने के लिए प्रेरित किया है।

जैसा कि रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि इसके अलावा, 70 प्रतिशत प्रमुख फार्मा कंपनियों ने नेटवर्क, डेटा और एक्सेस के आसपास, अगले दो वर्षो में एक स्पष्ट रोडमैप की आवश्यकता के साथ एक शून्य-विश्वास दृष्टिकोण पर अपना ध्यान केंद्रित किया है।

डीएससीआई के सीईओ, राम वेदश्री ने कहा, “उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजनाएं और सरकारी समर्थन से अधिक विशिष्ट निर्माताओं और अनुसंधान-नेतृत्व वाले संगठनों को प्रोत्साहित किया जाएगा। साइबर सुरक्षा अपनाने और प्रभावी ढंग से साइबर जोखिमों के प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करने से व्यापार परिवर्तन और इस क्षेत्र में बाजार के नेताओं को स्थापित किया जा सकेगा।”

अन्य ख़बरें

नाबालिग लड़की के साथ अभद्रता करने वाले शख्स का वीडियो वायरल, डीसीडब्ल्यू ने लिया संज्ञान

Newsdesk

रानी झांसी रेजिमेंट की आशा सेन बोलीं : उन दिनों युवाओं, बुजुर्गो तक में बला की देशभक्ति थी

Newsdesk

कर्नाटक : 2 वाहनों की टक्कर में 7 की मौत

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy