32.5 C
Jabalpur
September 30, 2022
Seetimes
अंतराष्ट्रीय

जयशंकर कश्मीर पर एर्दोगन से बातचीत के बाद तुर्की के वित्तमंत्री से मिले

संयुक्त राष्ट्र ,21 सितंबर । अंकारा के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन द्वारा अपने महासभा के संबोधन में कश्मीर का तटस्थ-ध्वनि वाला संदर्भ देने के कुछ घंटों बाद विदेश मंत्री एस जयशंकर ने वैश्विक मामलों पर व्यापक चर्चा के लिए तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत कावुसोग्लू से मुलाकात की।
मंगलवार को बैठक के बाद एक ट्वीट में, जयशंकर ने कहा कि उन्होंने एक व्यापक बातचीत की, जिसमें यूक्रेन संघर्ष, खाद्य सुरक्षा, जी20 प्रक्रियाओं, वैश्विक व्यवस्था, एनएएम (गुटनिरपेक्ष आंदोलन) और साइप्रस को कवर किया गया।
तुर्की साइप्रस के विभाजित द्वीप पर अपने जातीय हमवतन लोगों के बीच टकराव में उलझा हुआ है, जो इसके उत्तरी भाग और ग्रीक साइप्रियोट्स को अलग करते हैं।
एर्दोगन ने सुबह अपने भाषण में एक तटस्थ-ध्वनि वाला रुख अपनाया और कहा , हम आशा और प्रार्थना करते हैं कि कश्मीर में निष्पक्ष और स्थायी शांति और समृद्धि स्थापित होगी।
उन्होंने पिछले साल की तरह संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों को लागू करके या उससे पहले के वर्षो में भारत की कड़े शब्दों में आलोचना करके कश्मीर का अंतर्राष्ट्रीयकरण करने से परहेज किया।
पाकिस्तानी राजनेताओं के अलावा, एर्दोगन एकमात्र अन्य नेता हैं, जिन्होंने हाल के वर्षों में 193 सदस्यीय विधानसभा में भाषणों में कश्मीर का उल्लेख किया है।
तुर्की ने रूस और यूक्रेन के बीच वार्ता में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, और संयुक्त राष्ट्र के साथ उसने काला सागर के माध्यम से खाद्यान्न निर्यात के लिए कीव के बंदरगाहों को खोलने में मदद की।
जयशंकर ने इसके अलावा ऑस्ट्रिया के विदेश मंत्री अलेक्जेंडर शैलेनबर्ग से मुलाकात की, जिन्हें उन्होंने एक ट्वीट में ‘मेरे प्रिय मित्रÓ कहा। इसमें कहा गया था कि उन्होंने गतिशीलता और शिक्षा में हमारे सहयोग का विस्तार करने पर चर्चा की।
स्कैलेनबर्ग ने अपने ट्वीट में कहा कि उनके पास ‘प्रवास के क्षेत्र सहित द्विपक्षीय संबंधोंÓ को कवर करने वाले एक और उत्कृष्ट आदान-प्रदान का अवसर था।
उन्होंने कहा, यूक्रेन के खिलाफ रूस की अभूतपूर्व आक्रामकता के वैश्विक परिणामों पर भी चर्चा की।
जयशंकर ने लीबिया की विदेश मंत्री नजला एलमांगौश से भी मुलाकात की।
इससे पहले महासभा के दौरान अपनी कूटनीति के दूसरे दिन जयशंकर ने घाना के राष्ट्रपति नाना अकुफो-अडो और कोमोरोस के अजाली असौमानी के साथ उच्चस्तरीय बैठकें कीं।

अन्य ख़बरें

रूस के सोशल नेटवर्क को विश्व स्तर पर ऐप स्टोर से हटाया गया

Newsdesk

पाक ने 30 अरब डॉलर के बाढ़ के नुकसान के बाद पुनर्वास योजना बनाई

Newsdesk

दुनियाभर में छाया हिजाब प्रोटेस्ट, महिला सिंगर ने अब मंच पर सबके सामने किया ये काम

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy