14.3 C
Jabalpur
December 7, 2022
सी टाइम्स
प्रादेशिक वीडियो

दो बहनों ने अपने साथियों के साथ मिलकर क़रीब 10 हजार फीट लंबा तोरण बनाया

 

जबलपुर के बलदेवबाग में रहने वाली दो बहनों ने अपने साथियों के साथ मिलकर क़रीब 10 हजार फीट लंबा तोरण बनाया है। इस तोरण को जल्द ही जम्मू (कटरा ) में माता वैष्णो के मंदिर में लगाया जाएगा। बताया जा रहा है कि देश का यें सबसे लंबा तोरण है जिसे जबलपुर की दो बहनों ने अपने साथियों के साथ मिलकर बनाया है। जिस समय वैष्णो मंदिर में तोरण को लगाया जाएगा उस समय गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम भी मौजूद रहेगी। जबलपुर की खूशबू और रिचा की टीम को यह तोरण बनाने में 10 दिन लगे है।

माता वैष्णो के लिए 10 हजार लंबा तोरण बनाने वाली रिचा बताती हैं कि अचानक से उनके जहन में आया कि क्यों ना माता को कुछ हटकर चढ़ावा चढ़ाया जाए, फिर क्या था उन्होंने अपनी बहन खुशबू और 25 साथियों को इकट्ठा किया और फिर 10 दिन में 10000 फुट लंबा तोरण बना डाला। रिया बताती है कि इस तोरण को बनाने के लिए करीब 3000 मीटर कपड़ा लगा है तो वही इसमें अनगिनत फूल भी लगे हुए हैं।

खुशबू ने बताया कि शनिवार की सुबह करीब 10 बजे कोतवाली से तोरण की शोभायात्रा निकाली जाएगी जो कि मालवीय चौक पर जाकर खत्म होगी। इस शोभायात्रा में 2000 लोग शामिल होंगे जो कि 10000 फुट लंबे तोरण को संभाले रहेंगे। खूशबू ने बताया की कोशिश की जा रही है कि हर पांच 5 फीट पर एक व्यक्ति तोरण को अपने हाथों में लेकर चलेगा। उसके बाद फिर शनिवार को ही ट्रेन के माध्यम से पूरी टीम कटरा के लिए रवाना होगी जहां माता वैष्णो के मंदिर में तोरण लगाया जाएगा।

 

रिचा का कहना है कि संभवत देश का यह सबसे बड़ा तोरण है जो कि10000 फीट लंबा बना है। माता वैष्णो के लिए बनाया गया 10000 फिट लंबा तोरण जिस समय कटरा में लगाया जाएगा उस दौरान गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम भी मौजूद रहेगी। रिचा के मुताबिक देश में सबसे लंबा तोरण बनाए जाने का संभवत यह रिकॉर्ड बनेगा।

अन्य ख़बरें

बैतूल में बोरवेल में गिरा मासूम, राहत और बचाव कार्य जारी

Newsdesk

मध्यप्रदेश कांग्रेस में सब ठीक नहीं, इसकी खबर राहुल को भी!

Newsdesk

पांच नक्सली मारा जाना उपलब्धि: शिवराज

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy