14.3 C
Jabalpur
December 7, 2022
सी टाइम्स
प्रादेशिक

भाजपा ने छत्तीसगढ़ में आदिवासियों से किया दोयम दर्जे का बर्ताव-भूपेश

रायपुर 24 नवम्बर(वार्ता)छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आदिवासी आरक्षण पर भाजपा के लगातार हमले पर पलटवार करते हुए उस पर आरोप लगाया कि 15 वर्षों के उसके शासनकाल में आदिवासियों से दोयम दर्जे का बर्ताव किया गया।

श्री बघेल ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस ने दिवंगत आदिवासी नेता मनोज मंडावी को विधानसभा उपाध्यक्ष बनाया,भाजपा ने 15 वर्षों में किस आदिवासी को अध्यक्ष या उपाध्यक्ष बनाया ? उसने हमेशा आदिवासियों से दोयम दर्जे का बर्ताव किया।पेसा कानून को लागू नही किया,वन भूमि पट्टा अधिकार कानून का सही ढ़ग से क्रियान्वयन नही किया।आदिवासियों के दूसरे राज्य में पलायन करने से 600 गांव खाली हो गए।

उन्होने कहा कि भाजपा और पूर्व मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह जिस 15 वर्ष के सत्ताकाल को रामराज्य होने का दावा करते हैं उसका कितना खामियाजा विपक्ष ने और राज्य के लोगो ने भुगता हैं,वह बेहतर तरीके से जानते हैं।आदिवासियों की जमीन छीन ली गई,उन्हे नक्सली बताकर जेलों में ठूस दिया गया और तमाम का नक्सली बताकर मुठभेड़ दिखाकर मार दिया गया।झीरम घाटी में कांग्रेस के दिग्गज नेता और कार्यकर्ता नक्सलियों द्वारा मार दिए गए। क्या यहीं रामराज्य था ?

पूर्व मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह के द्वारा उनके निर्वाचन क्षेत्र राजनांदगांव में की गई घोषणाओं पर सवाल उठाए जाने पर श्री बघेल ने कहा कि वह केवल गुमराह कर वहां की जनता से वोट लेते रहे हैं।उन्होने 15 वर्षों तक मुख्यमंत्री रहते सड़के बनवाई होती तो लोग क्यों उनसे सड़क की मांग करते।

श्री बघेल ने बताया कि वह कल से राज्य से बाहर पांच दिनों के दौरे पर रहेंगे।कल वह नई दिल्ली में केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा बजट पर चर्चा के बारे में आहूत बैठक में हिस्सा लेंगे।अगले दिन शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ बैठक में शामिल होंगे।अगले दिन मध्यप्रदेश के मंहू में भारत जोड़ो पद यात्रा में शामिल होंगे फिर वहीं से गुजरात में चुनाव प्रचार के लिए रवाना हो जायेंगे।

अन्य ख़बरें

बैतूल में बोरवेल में गिरा मासूम, राहत और बचाव कार्य जारी

Newsdesk

मध्यप्रदेश कांग्रेस में सब ठीक नहीं, इसकी खबर राहुल को भी!

Newsdesk

पांच नक्सली मारा जाना उपलब्धि: शिवराज

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy