18.9 C
Jabalpur
February 8, 2023
सी टाइम्स
अंतराष्ट्रीय

वर्ष 2022 ने बाइडेन को 2024 के लिए तैयार किया, क्या उन्हें दूसरा कार्यकाल मिलेगा?

वाशिंगटन, 24 दिसंबर | अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और उनकी डेमोक्रेटिक पार्टी को 2022 के मध्यावधि चुनाव में हार का सामना करना पड़ा। सवाल था : कितनी बुरी तरह? और रिपब्लिकन के लिए सवाल था : वे कितनी बड़ी जीत हासिल करेंगे?

बाइडेन की पार्टी ऐतिहासिक रूप से अपने पहले कार्यकाल के पहले मध्यावधि चुनाव में और बड़े अंतर से कांग्रेस का चुनाव हार चुकी है।

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपनी हार – 63 सीटों – को ‘शिकस्त’ कहा। उनके उत्तराधिकारी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भी 40 सीटें मिलीं, लेकिन उन्होंने इसके लिए कोई शब्द नीं खोजा।

तो बाइडेन कितनी बुरी तरह हारेंगे? पोल ने उनके लिए एक आपदा और रिपब्लिकन के समर्थन की ‘लाल लहर’ की भविष्यवाणी की।

बाइडेन ने इसकी परवाह करने के बजाय काफी अच्छा काम किया। ओबामा समर्थकों की 63 सीटों की तुलना में डेमोक्रेट केवल नौ सीटों से प्रतिनिधि सभा में हार गए और ट्रंप के मुकाबले रिपब्लिकन 40 हार गए। डेमोक्रेट अमेरिकी सीनेट में बने रहे, इससे पहले कि एक डेमोक्रेटिक सीनेटर ने पार्टी की संबद्धता को निर्दलीय में बदल दिया, संक्षेप में कहा जाए तो उनकी संख्या में वृद्धि हुई।

बाइडेन ने एक राजनीतिक कार्यक्रम में डेमोक्रेट्स को खुश करने के लिए कहा था, “मंगलवार अमेरिका के लोकतंत्र के लिए एक अच्छा दिन था।” इसके तुरंत बाद चुनावों के रुझानों ने स्पष्ट रूप से प्रदर्शित किया कि वह न केवल ‘सबसे खराब’ माने जाने से बच गए, बल्कि उनके बेहतर कामकाज को मान्यता मिली।”

अमेरिका के एक शीर्ष डेमोक्रेट ने कहा, “आप सभी ने महीनों तक प्रेस और पंडितों से सुना था कि डेमोकेट्र एक आपदा का सामना कर रहे हैं। लेकिन याद रखें कि लाल लहर नहीं आई, जिससे देश को ऐतिहासिक नुकसान हो सकता था।”

बाइडेन के लिए मध्यावधि चुनाव के परिणाम विशेष रूप से मधुर रहे। इस समय उनके राष्ट्रपति पद पर रहते कई अन्य राष्ट्रपतियों की तुलना में व्यक्तिगत अनुमोदन रेटिंग खराब थी। राष्ट्रपति पद पर रहते ओबामा की अनुमोदन रेटिंग 46 प्रतिशत थी, जॉर्ज डब्ल्यू बुश की 63े, जॉन एफ कैनेडी की 76 और रिचर्ड निक्सन की 52 प्रतिशत रही थी।

बाइडेन को 40 यानी ट्रंप से सिर्फ एक प्रतिशत अंक बेहतर मिले हैं। हालांकि मतपत्र पर खुद बाइडेन पार्टी के अन्य उम्मीदवारों पर हानिकारक प्रभाव डाल सकते थे, पर ऐसा नहीं हुआ। इसके बजाय जो कुछ भी हुआ, उसने अमेरिकी राष्ट्रपति को चुनाव से पहले की तुलना में अधिक मजबूत महसूस कराया।

बाइडेन नवंबर में आसियान के वार्षिक शिखर सम्मेलन के लिए जब कंबोडिया गए थे, तो वहां उन्होंने संवाददाताओं से कहा था, “मुझे अच्छा लग रहा है, और मैं मुझे अगले कुछ वर्षो तक काम करने का उत्साह मिला है।”

क्या वह दूसरे कार्यकाल के लिए दौड़ में शामिल होंगे? बाइडेन ने कहा है कि उनका इरादा है, लेकिन जनवरी में अपने परिवार के साथ विचार-विमर्श के बाद फैसला लेंगे।

कई डेमोक्रेट, विशेष रूप से युवा प्रगतिवादी चाहते हैं कि बाइडेन किसी युवा के लिए रास्ता बनाए। हालांकि वे स्वीकार करते हैं कि बाइडेन मध्यावधि चुनाव में चमत्कार के लिए श्रेय के पात्र हैं।

80 साल की उम्र में बाइडेन पद पर रहने वाले सबसे उम्रदराज अमेरिकी राष्ट्रपति हैं। वह 2024 में 82 साल के हो जाएंगे और रिपब्लिकन उनके खिलाफ उनकी उम्र के मुद्दे का इस्तेमाल कर सकते हैं।

तब रिपब्लिकन के लिए खुद पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप ही समस्या बनकर उभरेंगे।

नवंबर 2022 के मध्यावधि चुनाव रिपब्लिकन के हारने के लिए थे, इतिहास और चुनाव उनके पक्ष में थे। लेकिन, उन्होंने जीत के जबड़े से हार छीन ली और इसलिए अपेक्षित लाल लहर नहीं हुई।

पार्टी और जनाधार पर अपनी पकड़ को लेकर घमंडी ट्रंप ने त्रुटिपूर्ण उम्मीदवारों का समर्थन किया। उनका एक ही मकसद था कि उनके इस झूठे दावे को समर्थन मिले कि 2020 में धोखाधड़ी के कारण बाइडेन जीते और ट्रंप हार गए।

मध्यावधि चुनाव में अधिकांश ट्रंप समर्थित उम्मीदवार हार गए और सबसे गंभीर रूप से उन प्रतियोगिताओं में हार गए जो अधिक योग्य और बेहतर रिपब्लिकन उम्मीदवारों द्वारा जीते जा सकते थे – पेन्सिलवेनिया में टीवी डॉक्टर मेहमेट ओज, जॉर्जिया में अमेरिकी फुटबॉल स्टार हर्शल वॉकर और एरिजोना में केरी लेक इत्यादि।

वास्तव में, मध्यावधि चुनाव ने ट्रंप को भारी झटका दिया, उनके ब्रांड, राजनीति और उनके फर्जी चुनावी दावों को एक तरह से नकार दिया गया।

रिपब्लिकन सीनेटर मिट रोमनी ने कहा, “यदि आप प्राथमिक में उनके द्वारा समर्थन प्राप्त करते हैं, तो आपके जीतने की संभावना है। यदि आप सामान्य रूप से उनके द्वारा समर्थन प्राप्त करते हैं, तो आपके हारने की संभावना है। इसलिए जो वास्तव में चुनाव जीतना चाहता है, उसके लिए ट्रंप का समर्थन प्राप्त करना मृत्यु का चुंबन जैसा है।”

रिपब्लिकन खुद मानते हैं कि ट्रंप पार्टी के लिए जहरीले हो गए हैं, इसलिए उनका ट्रंप को आगे बढ़ने का कोई इरादा नहीं है, मगर ट्रंप ने 2024 में व्हाइट हाउस के लिए तीसरी दौड़ में शामिल होने की घोषणा की है।

हो सकता है कि वह फिर से व्हाइट हाउस जीतना चाहता हों, लेकिन संभावना है कि उन्हें राजनीतिक सुरक्षा की ज्यादा जरूरत होगी, क्योंकि यह दौड़ उन्हें कानूनी मुसीबतों में भी डाल सकती है। हालांकि वह दावा कर सकते हैं कि उन्हें नुकसान पहुंचाने के लिए लगाए गए आरोप राजनीति से प्रेरित हैं।

अन्य ख़बरें

पेरू में भूस्खलन में आठ लोगों की मौत, पांच लापता

Newsdesk

तुर्की-सीरिया भूकंप में मरने वालों की संख्या 5,000 के पार

Newsdesk

तुर्की के दूत ने भारत को ‘दोस्त’ कहते हुए बोला ‘थैंक्स’

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy