Seetimes
National

बढ़ते कोरोना के बीच बॉर्डर पर साफ सफाई का रखा जाएगा ध्यान : एसकेएम

नई दिल्ली, 24 अप्रैल (आईएएनएस)| देशभर में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच दिल्ली की सीमाओं पर धरना दे रहे किसानों ने शुक्रवार को एक बैठक की, जिसमें संयुक्त किसान मोर्चा ने निर्णय लिया कि किसानों के मोर्चो पर सेनिटेशन व साफ-सफाई का विशेष तौर पर ध्यान रखा जाएगा। किसानों को मास्क बांटे जाएंगे। मोर्चा के अनुसार, प्रशासन ने धरने के आसपास वैक्सीनेशन सेंटर बनाए हैं। वहां किसान जाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं। लक्षण दिखने पर जांच करवाई जाएगी। मोर्चो पर किसान पहले ही दूर-दूर खुले में रह रहे हैं। कहा गया है कि संयुक्त किसान मोर्चा कृषि कानूनों के खिलाफ होने के साथ-साथ कोरोना के खिलाफ भी लड़ रहा है।

किसान मोर्चा द्वारा बयान जारी कर कहा गया, “कोरोना लॉकडाउन में जब सब लोग घरों में कैद थे तब ‘आपदा में अवसर’ खोजते हुए, सरकार ने किसान विरोधी व जन विरोधी कृषि कानून देश पर थोपे। स्वास्थ्य सेवाओं पर ध्यान देने की बजाय कॉरपोरेट घरानों को खुश रखने के सभी प्रयास सरकार ने किए। आज भी भाजपा के लिए चुनाव महत्वपूर्ण है न कि देश की जनता।”

भाजपा नेताओं के पास यह विकल्प है कि वे चुनावी रैली करें या न करें, पर किसानों के पास विरोध करने के अलावा कोई रास्ता नहीं है। किसान अपना विरोध वापस ले लेंगे, अगर सरकार खेती कानून वापस ले व एमएसपी पर कानून बना दे।

सरकार कोरोना से लड़ने में असफल रही है। किसानों के धरनों से कितने लोगों को कोरोना हुआ है यह सरकार को सिद्ध करना चाहिए बजाय इसके कि किसानों के खिलाफ प्रोपगंडा फैलाएं। कोरोना महामारी का पिछली बार भी किसानों के खिलाफ प्रयोग किया गया था व अब भी हो रहा है।

अन्य ख़बरें

इजराइल दूतावास विस्फोट मामले में स्पेशल सेल ने 4 कश्मीरी छात्रों को किया गिरफ्तार

Newsdesk

क्या 26 जून को दिल्ली के उपराज्यपाल से मिलने ट्रैक्टर से जाएंगे किसान?, बॉर्डर पर चल रहा किसानों का मंथन

Newsdesk

प्रधानमंत्री मोदी बोले- जम्मू-कश्मीर में परिसीमन के बाद शीघ्र होंगे विधानसभा चुनाव

Newsdesk

Leave a Reply