Seetimes
Health & Science World

ब्रिटेन में सितंबर की शुरूआत से कोरोनावायरस के सबसे कम मामले आए

लंदन, 26 अप्रैल (आईएएनएस)| ब्रिटेन में 1712 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, सितंबर की शुरुआत से कोविड-19 पॉजिटिव लोगों की संख्या कम हुई है। इससे देश में कोरोनोवायरस मामलों की संख्या 4,404,882 हो गई है।

देश में 11 और लोगों की कोरोनावायरस के कारण मौत हो गई है। इससे ब्रिटेन में कोरोनोवायरस से मरने वाले लोगों का आकड़ा 127,428 हो गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इन आंकड़ों में केवल उन लोगों की मौत दर्ज है जो कोरोना पॉजिटिव होने के 28 दिन में मर गए हैं।

दो सप्ताह बाद इंग्लैंड में गैर-आवश्यक दुकानों और आउटडोर अतिथि सत्कार खुलने के बाद यह डेटा सामने आया है। कुछ क्षेत्रों में रिपोर्ट में देरी के कारण सप्ताहांत पर जारी आंकड़े आमतौर पर कम होते हैं।

नवीनतम आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 3.36 करोड़ से अधिक लोगों को कोरोनोवायरस वैक्सीन की पहली खुराक दी गई है।

ब्रिटिश प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने स्वीकार किया है कि अधिकांश वैज्ञानिक विशेषज्ञों का मानना है कि इस साल किसी न किसी स्तर पर कोरोनावायरस की एक और लहर आएगी और ब्रिटेन के लोगों को वायरस के साथ जीना सीखना होगा।

हालांकि, उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में वैज्ञानिक आंकड़ों में ऐसा कुछ भी नहीं था जिसमें लॉकडाउन लगाने का सुझाव दिया गया हो।

इंग्लैंड में हेयरड्रेसर, ब्यूटी सैलून और अन्य निकट संपर्क सेवाओं के साथ लॉकडाउन में मिली छूट से 12 अप्रैल से सभी दुकानें फिर से खुल गईं।

रेस्तरां और पब और बाहर बैठे ग्राहकों को खाना और शराब देने की अनुमति है। इस बीच, जिम, स्पा, चिड़ियाघर,थीम पार्क, पुस्तकालय और सामुदायिक केंद्र सभी खुल सकते हैं।

17 मई से रेस्तरां और पब को इनडोर सेवा फिर से शुरू करने की अनुमति दी जाएगी और लोगों के बाहर इकट्ठा होने पर अधिकांश नियम बनाए जाएंगे।

ब्रिटिश सरकार की चार-चरणीय योजना में इंग्लैंड में जून के मध्य से सभी कानूनी प्रतिबंधों के हटाने की उम्मीद है।

विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि वैक्सीन रोलआउट में प्रगति के बावजूद, नए वेरिएंट पर चिंताओं के बीच ब्रिटेन “अभी भी इस महामारी से बाहर नहीं आए है”, पहले से ही दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील और भारत में फैली हुई है और अब यूरोपीय महाद्वीप पर महामारी की तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है।

जीवन को वापस लाने के लिए, ब्रिटेन, चीन, रूस, संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ-साथ यूरोपीय संघ जैसे देश कोरोनोवायरस के टीकों को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहंचाने की कोशिश कर रहे हैं।

अन्य ख़बरें

कैलिफोर्निया में जंगल की आग से 10,000 से अधिक घरों को खतरा

Newsdesk

अफगान शहर पर तालिबान का हमला नाकाम, 28 आतंकवादी मारे गए

Newsdesk

चीनी शहर नानजिंग के लोगो में पाए गए डेल्टा वेरिएंट

Newsdesk

Leave a Reply