Seetimes
Lifestyle

ग्वालियर में जरुरतमंदों की भूख मिटा रही दीनदयाल रसोई

ग्वालियर, 28 अप्रैल (आईएएनएस)| कोरोना के गहराते संकट के बीच उन लोगांे के लिए दो वक्त की रोटी का इंतजाम आसान नही रहा, जो रोज कमाते और खाते आ रहे हैं। ऐसे लोगों के लिए पेट की आग को बुझाना मुश्किल हो गया है। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में ऐसे जरुरतमंदों के लिए दीनदयाल रसोई वरदान साबित हो रही है क्योंकि एक तरफ यहां 10 रुपये में भोजन मिल रहा है, वहीं जिनके पास पैसे नहीं है उन्हें भी भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। नगर निगम ग्वालियर द्वारा शहर के तीन स्थानों पर स्थाई दीनदयाल रसोई एवं एक चलित दीनदयाल रसोई के माध्यम से अन्य आवश्यक स्थानों पर पहुंचकर जरूरतमंदों को प्रतिदिन सुबह व शाम के समय पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।

कोरोना के संक्रमण के संकट के बीच चल रहे कोरोना कर्फ्यू के दौरान कोई भूखा न रहे, हर भूखे को भोजन मिले इस उद्देश्य से संचालित दीनदयाल रसोई योजना के तहत प्रतिदिन लगभग 2850 लोगों को 10 रुपए में भरपेट भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके साथ ही ऐसे लोग जो पैसे देने में असमर्थ हैं, उन्हें दीनदयाल रसोई द्वारा निशुल्क भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।

दीनदयाल रसोई के नोडल अधिकारी रजनीश गुप्ता के मुताबिक, नगर निगम द्वारा रोडवेज बस स्टैंड, झांसी रोड बस स्टैंड एवं राजपाएगा रोड नया बाजार पर स्थाई दीनदयाल रसोई चलाई जा रही हैं, जिसमें प्रतिदिन सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक जरूरतमंदों को पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इन तीनों दीनदयाल रसोई में लगभग 1600 नागरिकों को प्रतिदिन सुबह व शाम का भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके साथ ही निगम द्वारा संचालित चलित दीनदयाल रसोई द्वारा विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर पहुंचकर लगभग 1300 जरूरतमंद लोगों को सुबह व शाम को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके साथ ही इन सभी स्थानों पर अनेक ऐसे नागरिक मिलते हैं जिनके पास भोजन के लिए भी नहीं है उन्हें दीनदयाल रसोई द्वारा नि:शुल्क भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।

नगर निगम ग्वालियर द्वारा आमजनों को सस्ता एवं सात्विक भोजन उपलब्ध कराने के लिए प्रतिदिन सुबह 10 बजे से दोपहर तीन बजे तक दीनदयाल रसोई का संचालन किया जाता रहा है, लेकिन अब नगर निगम ने कोरोना संकट के दौरान जरूरतमंद व गरीबों की पीड़ा को महसूस करते हुए प्रतिदिन शाम को साढ़े पांच से साढ़े आठ तक भी दीनदयाल रसोई का संचालन किया जा रहा है।

अन्य ख़बरें

इंदौर अब होगा भिखारी मुक्त

Newsdesk

उज्जैन महाकाल के दर्शन के समय में दो घंटे की बढोत्तरी

Newsdesk

कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल (26 जुलाई से 1 अगस्त)

Newsdesk

Leave a Reply