Seetimes
National

पंचायत चुनाव : सूबे के 17 जिलों में मतदान शुरू

लखनऊ, 29 अप्रैल (आईएएनएस)| कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार के बीच यूपी में गांव की सरकार बनाने का जोश नजर आ रहा है। चौथे और अंतिम चरण का मतदान आज सुबह सात बजे से शुरू हो गया है। 17 जिलों में शाम को छह बजे तक चलने वाले मतदान के लिए मतदाताओं के साथ पोलिंग पार्टियां व सुरक्षा कर्मी मुस्तैद हैं। प्रदेश में आज बुलंदशहर, हापुड़, संभल, शाहजहांपुर, अलीगढ़, मथुरा, फरुर्खाबाद, बांदा, कौशांबी, सीतापुर, अंबेडकरनगर, बहराइच, बस्ती, कुशीनगर, गाजीपुर, सोनभद्र और मऊ जिलों में मतदान शुरू हो गया है।

चुनाव आयोग से मिली जानकारी के अनुसार, इस फेज में कुल 19035 मतदान केंद्र और 48554 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। कुल 2 करोड़ 98 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग इस चरण में कर सकेंगे। चतुर्थ चरण के 17 जनपदों में 738 जिला पंचायत वार्ड के जिला पंचायत सदस्यों के लिए 10679 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। 18356 क्षेत्र पंचायत वार्ड के क्षेत्र पंचायत सदस्य के लिए 85408 उम्मीदवार मैदान में हैं। इसी तरह इन 17 जिलों में 14111 ग्राम पंचायत के प्रधान पद के लिए 114400 उम्मीदवार मैदान में हैं।

प्रदेश में पहले चरण का मतदान 15 अप्रैल को हुआ था, जिसमें 18 जिलों 71 प्रतिशत मतदान हुआ था। इसके बाद तो मतदान प्रतिशत बढ़ता ही चला गया। 19 अप्रैल को 20 जिलों में 73 प्रतिशत और 26 अप्रैल को 20 जिलों में 73.50 प्रतिशत मतदान हुआ था। अब आज भी 17 जिलों के मतदाता जोश में हैं और इनका प्रयास बीते तीन चरण के रिकॉर्ड को तोड़ का है। बीते तीन चरण में मतपेटिका लूटने, इनमें पानी तथा स्याही डालने के साथ ही मारपीट तथा फायरिंग हुई थी। इन सभी को देखते हुए आज सुरक्षा कर्मी बेहद मुस्तैद हैं।

उधर, फरुर्खाबाद के विकास खंड मोहम्मदाबाद क्षेत्र की ग्राम पंचायत खिमसेपुर में मतदाताओं में पंचायत चुनाव के लिए उत्साह दिखाई दिया। सुबह से ही बड़ी तादात में मतदाता बूथ पर पहुंचे। गांव की 90 वर्षीय सावित्री देवी चलने-फिरने में लाचार हैं। वह स्वयं बूथ पर नहीं जा पाई, तो उन्होंने अपने नाती उपेंद्र सिंह का सहारा लिया। उपेंद्र सावित्री देवी को अपनी गोद में उठाकर वोट डलवाने के लिए बूथ पर पहुंचा।

बहराइच में सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया। अधिकतर बूथों पर सुबह ही लंबी कतार लग गई है। यहां पर मतदाता मास्क लगाकर ही बूथों पर आ रहे हैं। इसके बाद भी बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच शारीरिक दूरी तार-तार हो रही है।

मथुरा में मतदान को लेकर गुरुवार की सुबह से मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की भीड़ जुटने लगी। कोई ई-रिक्शा से सवार होकर मतदान केंद्र तक पहुंचा तो कोई बाइक से। सबसे पहले वोट डालने की होड़ दिखी।

अंबेडकरनगर के आलापुर तहसील के अंतर्गत हथिनाराज मतदान केंद्र पर सुबह से ही मतदाता पहुंचे हैं। साथ ही यहां सुरक्षा के भी सभी पुख्ता इंतजाम हैं।

कुशीनगर के खड्डा क्षेत्र के बोधीछापर गांव में लोग सुबह 6.00 बजे ही मतदान की लाइन में लग गए हैं, जबकि मतदान सुबह 07 बजे से शुरू होना था। प्रशासन निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण मतदान के लिए सभी तैयारी कर चुका है।

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि अंतिम चरण के चुनाव के लिए सभी बंदोबस्त कर लिए गए हैं। उन्होंने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था के तहत इन जिलों में 51 कंपनी पीएसी और 10 कंपनी केंद्रीय अर्ध सैनिक बल उपलब्ध कराया गया है। इसके अलावा 375 निरीक्षकों, 7456 उप निरीक्षकों, 15040 मुख्य आरक्षी और 54020 सिपाहियों की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही 66444 होमगार्ड, 2212 पीआरडी जवान और 4776 रिक्रूट्स की भी ड्यूटी चुनाव के लिए लगाई गई है। उन्होंने बताया कि शांति पूर्ण और भय मुक्त चुनाव कराने के लिए सभी बंदोबस्त किए गए हैं।

अन्य ख़बरें

मेडिकल में ओबीसी व आर्थिक रूप से कमजोर को आरक्षण देने का फैसला ऐतिहासिक : शिवराज

Newsdesk

बिहार में 3 दिन बाद नए कोरोना संक्रमितों की संख्या में आई कमी

Newsdesk

बंगाल में स्वतंत्रता दिवस तक जारी रहेगा आंशिक लॉकडाउन

Newsdesk

Leave a Reply