Seetimes
National

मप्र के नगरों में बनेंगे विद्युत या गैस शवदाहगृह, कांग्रेस ने सरकार के फैसले पर तंज कसा

भोपाल, 29 अप्रैल (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश सरकार ने प्रमुख नगरों में विद्युत और गैस शवदाहगृह बनाने में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं, कांग्रेस ने सरकार के इस निर्देश पर तंज कसा है और कहा है कि शिवराज सरकार को दवा की नहीं चिताओं की चिंता है। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि नगर की जनसंख्या के अनुरूप नगर में विद्युत, गैस शवदाह गृह बनाने की कार्यवाही तत्काल प्रारंभ करें। पांच लाख और उससे अधिक जनसंख्या के शहरों में आवश्यकतानुसार एक से अधिक शवदाह गृह बनाये जा सकते हैं। एक लाख से पांच लाख तक की आबादी के शहरों में कम से कम एक विद्युत या गैस शवदाह गृह बनाने का लक्ष्य रखा जाए।

सिंह ने कहा है कि किसी नगर में स्थापित विद्युत या गैस आधारित शवदाह गृह कार्यशील नहीं है, तो अतिशीघ्र उसे क्रियाशील करवायें।

प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन एवं विकास नीतेश व्यास ने कहा है कि विद्युत या गैस शवदाह गृह पर्यावरण, स्वच्छता तथा वायु प्रदूषण कम करने की ²ष्टि से उपयोगी कदम हैं। इन शवदाह गृहों को स्थापित करने के लिए निकाय स्वयं की निधि, 15वें वित्त आयोग की वायु प्रदूषण व स्वच्छता हेतु प्रावधानित राशि और विधायक व सांसद निधि का उपयोग कर सकते हैं। इस कार्य के लिए कई सामाजिक संस्थाएं भी सहायता के लिए तत्पर रहती हैं। इन संस्थाओं के माध्यम से भी विद्युत, गैस शवदाह गृह स्थापित करने के लिए जन सहयोग प्राप्त करने का प्रयास किया जाए।

राज्य में विद्युत और गैस शवदाहगृह के संदर्भ में जारी किए गए निर्देशों पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है ,बेहद शर्मनाक ? शिवराज सरकार को दवा की नहीं , चिता की चिंता ? शवदाह गृह बढ़ाने के आदेश ?सही है ,अपनी नाकामी से यही हालत तो कर दी है प्रदेश की । शिवराज सरकार प्रदेश में अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन , इलाज, इंजेक्शन उपलब्ध करा दें तो शव दाह गृह बढ़ाने की जरूरत ही ना पड़े ?

अन्य ख़बरें

मेडिकल में ओबीसी व आर्थिक रूप से कमजोर को आरक्षण देने का फैसला ऐतिहासिक : शिवराज

Newsdesk

बिहार में 3 दिन बाद नए कोरोना संक्रमितों की संख्या में आई कमी

Newsdesk

बंगाल में स्वतंत्रता दिवस तक जारी रहेगा आंशिक लॉकडाउन

Newsdesk

Leave a Reply