Seetimes
National

केरल में 52 दिन का प्रतिबंध, तट से दूर रहेंगे ट्रॉलर

तिरुवनंतपुरम, 9 जून (आईएएनएस)| बुधवार मध्यरात्रि से मछली पकड़ने वाले ट्रॉलरों को केरल तट से 12 समुद्री मील दूर रहना होगा, क्योंकि 52 दिनों तक प्रतिबंध लागू रहेगा। साल 1988 के बाद से यह पहली बार है, जब ट्रॉलिंग प्रतिबंध लागू किया गया है।

हालांकि, प्रतिबंध उन पारंपरिक मछुआरों पर लागू नहीं है जो पारंपरिक नावों पर समुद्र में मछली पकड़ने में संलग्न हैं।

प्रतिबंधित होने का कारण यह है कि यह मछली के प्रजनन का मौसम है और उस प्रक्रिया में किसी भी तरह की गड़बड़ी मछली की उत्पत्ति को कम कर देती है।

नियम तोड़ने वाले सभी ट्रॉलर पर जुर्माना लगाया जाएगा।

केरल के अधिकांश घरों में मछली को सबसे महत्वपूर्ण व्यंजनों में से एक माना जाता है। इस प्रतिबंध से मछली की कीमतों में 25 फीसदी की बढ़ोतरी की संभवना है।

केरल में समुद्री मछली पकड़ने वाले लोगों के 200 से अधिक गांव हैं और कुल मछुआरे सात लाख से अधिक हैं।

राज्य सरकार प्रतिबंध अवधि के दौरान राशन के माध्यम से मछुआरों को राहत देगी।

अन्य ख़बरें

केरल में सड़क दुर्घटना में 5 की मौत, पुलिस ने जांच शुरू की

Newsdesk

बिहार के सीवान में बम विस्फोट, 2 घायल

Newsdesk

चिराग पासवान पिता की जयंती पर बिहार यात्रा निकालेंगे

Newsdesk

Leave a Reply