Seetimes
Education

दिल्ली: 9वीं और 11वीं के एग्जाम कैंसिल, एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन 11 जून से

नई दिल्ली, 10 जून (आईएएनएस)| दिल्ली में कक्षा 9वीं और 11वीं की परीक्षाओं को कैंसिल कर दिया गया है। मिड टर्म परीक्षाओं के आधार पर इन विद्यार्थियों को अगली कक्षाओं में प्रमोट किया जाएगा। साथ दिल्ली के सरकारी स्कूलों में कक्षा 6 से 9 की एडमिशन प्रक्रिया के लिए रजिस्ट्रेशन 11 जून से शुरू हो जाएगी। गुरुवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शिक्षा निदेशालय के अधिकारियों के साथ एक बैठक की, जिसमें एडमिशन और एग्जामिनेशन प्रक्रिया को लेकर निर्णय लिए गए। बैठक में 9वीं और 11वीं के विद्यार्थियों की प्रमोशन पॉलिसी और कक्षा 6 से 9 के विद्यार्थियों के लिए सरकारी विद्यालयों में दाखिले के विषयों पर निर्णय लिए गए।

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि केजी से कक्षा 8 के विद्यार्थियों को तो नो- डिटेंशन पॉलिसी के तहत अगली कक्षाओं में प्रमोट कर दिया गया था लेकिन 9वीं और 11वीं में पढ़ने वाले विद्यार्थियों में उनके रिजल्ट और आगे की पढ़ाई को लेकर अनिश्चित्ताएं बनी हुई थी। 9वीं और 11 वीं कक्षाओं की वार्षिक परीक्षा को 12 अप्रैल 2021 को स्थगित कर दिया गया था। इसके बाद दिल्ली सरकार ने विद्यार्थियों की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए इन कक्षाओं की परीक्षाओं को कैंसिल करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने साझा किया कि जो प्राइवेट स्कूल मिड टर्म और वार्षिक परीक्षा आयोजित कर चुके है, वो शिक्षा निदेशालय द्वारा जारी किए गए प्रोमोशन पॉलिसी के तहत रिजल्ट जारी कर सकते है। जिन स्कूलों में मिड टर्म के एग्जाम नहीं हो पाए या जो बच्चे किसी कारण सभी एग्जाम नहीं दे पाए ऐसी स्थिति में उनके द्वारा मिड टर्म एग्जाम में जिन 2 विषयों में सबसे अच्छा प्रदर्शन किया गया है, उसके अनुसार बाकी विषयों में अंक दिए जाएंगे। ये व्यवस्था सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूलों के लिए लागू होगी।

दिल्ली सरकार के स्कूलों में कक्षा 9वीं और 11वीं में पढ़ने वाले सभी विद्यार्थियों का रिजल्ट 22 जून को शिक्षा निदेशालय के वेबसाइट पर जारी कर दिया जाएगा। विद्यार्थियों को उनका रिजल्ट व्हाट्सएप्प और एसएमएस के द्वारा उनके फोन पर भी भेजा जाएगा। कोई भी स्कूल रिजल्ट के लिए अपने विद्यार्थियों को विद्यालय में नहीं बुलायेगा।

जिन विद्यार्थियों ने सिर्फ एक विषय का मिड टर्म एग्जाम दिया है या किसी भी विषय का मिड टर्म एग्जाम नहीं दिया है और जो विद्यार्थी मिनिमम क्वालीफाइंग मार्क्‍स नहीं ला पाए है उन्हें जुलाई में री-असेसमेंट का मौका दिया जाएगा। री-असेसमेंट के लिए विद्यार्थियों को किसी परीक्षा में नहीं बैठना पड़ेगा बल्कि प्रोजेक्ट्स और स्कूल बेस्ड असाइनमेंट के द्वारा उनका री-असेसमेंट किया जाएगा। री-असेसमेंट से संबंधित सभी गाइडलाइंस शिक्षा निदेशालय द्वारा जल्द ही जारी की जाएगी।

उपमुख्यमंत्री ने कक्षा 6 से 9 में सरकारी स्कूलों में होने वाले एडमिशन प्रक्रिया की जानकारी देते हुए कहा कि पिछले साल की तरह इस साल भी दिल्ली के सरकारी स्कूलों में होने वाले एडमिशन की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। शिक्षा निदेशालय दिल्ली के वेबसाइट पर जाकर 11 जून से इन कक्षाओं के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। ये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 30 जून तक चलेगी। इसके बाद 5 जुलाई से आवेदनकतार्ओं का उनके पात्रता के आधार पर एडमिशन शुरू कर दिया जाएगा। जो लोग पहले चरण में आवेदन नहीं कर पाएंगे उन्हें दूसरा मौका भी दिया जाएगा और उनके लिए 23 जुलाई से दोबारा रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी जो 6 अगस्त तक चलेगी।

वहीं केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले केंद्रीय स्कूल संगठन ने एक नोटिस जारी करते हुए कहा कि स्कूल दाखिले से संबंधित छात्रों की पहली चयनित एवं प्रतीक्षित सूची 23 जून को जारी की जाएगी। दूसरी 30 जून और तीसरी लिस्ट 5 जुलाई को जारी की जाएगी।

केवीएस के मुताबिक केंद्रीय विद्यालय में प्रथम कक्षा नामांकन की लॉटरी प्रक्रिया 23 जून को होगी। अन्य कक्षाओं में प्रवेश प्रक्रिया 25 से 30 जून तक चलेगी। कक्षा 11 वीं को छोड़कर अन्य सभी कक्षाओं की प्रवेश की अंतिम तिथि 31 अगस्त है। 11वीं कक्षा में दाखिले की प्रक्रिया दसवीं का रिजल्ट घोषित किए जाने के बाद तय की जाएगी।

अन्य ख़बरें

दिल्ली में 4 नए सरकारी स्कूलों का निर्माण, जुलाई तक बनेंगे नए क्लासरूम

Newsdesk

20 जुलाई तक 10 वीं बोर्ड और 31 जुलाई को 12 वीं बोर्ड का रिजल्ट: सीबीएसई

Newsdesk

12वीं रिजल्ट फार्मूला, व्यापक परामर्श के बाद अपनाई गई यह नीति : शिक्षा मंत्री निशंक

Newsdesk

Leave a Reply