Seetimes
National

मप्र में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की कोई तैयारी नहीं : कमल नाथ

New Delhi: Congress leader Kamal Nath arrives to pay tributes to party veteran Ahmed Patel who passed away at 3.30 am in a Gurugram hospital following Covid-19 complications, in New Delhi on Nov 25, 2020. (Photo: IANS)

भोपाल, 13 जून (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में बेहतर इंतजाम न होने का आरोप लगाते हुए कहा है कि हजारों मौतें तो सिर्फ ऑक्सीजन उपलब्ध न होने के कारण हुई है। तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है, मगर राज्य सरकार की ओर से इससे निपटने की कोई तैयारी नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि यह हम सभी जानते हैं कि कोरोना की दूसरी लहर की कई माह पूर्व से मिल रही तमाम चेतावनियों के बावजूद प्रदेश की शिवराज सरकार ने इससे निपटने की कोई तैयारी प्रदेश में नहीं की। प्रदेश में इलाज-बेड-अस्पताल-ऑक्सीजन-इंजेक्शन की कोई तैयारी व व्यवस्था नहीं की, जिससे हजारों लोगों की मौत प्रदेश में इसके अभाव में हुई और आज जब प्रदेश में कोरोना खत्म होने की कगार पर है तो अस्थायी कोविड सेंटरों का उद्घाटन किया जा रहा है। जब इसकी आवश्यकता थी, तब इनके पते नहीं थे।

कमल नाथ ने बताया कि जब यह बात सामने आ चुकी है कि कोरोना के इलाज में सबसे कारगर भूमिका ऑक्सीजन की है तो भी शिवराज सरकार ने इसका कोई इंतजाम पहले से नहीं किया, जिसके कारण प्रदेश के कई जिलो में ऑक्सीजन की कमी से हजारों लोगों ने तड़प-तड़प कर अपनी जान गंवा दी। होशंगाबाद के बाबई में 11 सितंबर 2020 को 200 टन के जिस ऑक्सीजन प्लांट की आधारशिला जोर-शोर रखी गई थी और जिसे छह माह में पूरा करने की बात कही गई थी, उसकी आज नौ माह तक बाउंड्रीवाल तक नहीं बन पाई। यह सच्चाई आज सभी के सामने है।

उन्होंने आगे कहा कि एक तरफ जब देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका व्यक्त की जा रही है, उसके बावजूद शिवराज सरकार द्वारा इसकी कोई तैयारी नहीं की जा रही है। आज भी प्रदेश के कई जिलो व जिला अस्पतालों में लगने वाले ऑक्सीजन प्लांट का कोई अतापता नहीं है। जिन ऑक्सीजन प्लांट का काम जोर-शोर से शुरू किया गया था, उसमें से कई आज भी अधूरे हैं और उनका काम ठप्प पड़ा है। ऐसे में कोरोना की तीसरी लहर से कैसे निपटेंगे? यह बड़ा सवाल आज सामने है।

अन्य ख़बरें

योगी ने कोरोना की तीसरी लहर के लिए यूपी को अलर्ट मोड पर रखा

Newsdesk

कोर्ट ने यूपी के मंत्री के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज करने का आदेश दिया

Newsdesk

कर्नाटक में फेरबदल के बाद सोशल इंजीनियरिंग पर विचार कर रही भाजपा

Newsdesk

Leave a Reply