Seetimes
National

पुलिस की मनमानी पर जीरो टॉलरेंस: तमिलनाडु डीजीपी

चेन्नई, 24 जून (आईएएनएस)| तमिलनाडु के पुलिस महानिदेशक जे.के. त्रिपाठी ने कहा है कि पुलिस की मनमानी और हिरासत में प्रताड़ना को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। त्रिपाठी ने सलेम में एक किसान पर पुलिस हमले और बुधवार को उसकी बाद में हुई मौत को एक चूक बताया।

डीजीपी ने आईएएनएस को बताया कि पुलिस की ओर से किसी भी आपराधिक कृत्य के लिए कोई नरमी नहीं बरती जाएगी । उन्होंने कहा कि विशेष उप-निरीक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है। ये विशेष उप-निरीक्षक किसान मुरुगेसन के खिलाफ हमले में शामिल था, जिससे उसकी मौत हो गई थी।

पुलिस ने स्पेशल एसआई एस पेरियास्वामी के खिलाफ हत्या का आरोप लगाते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया है।

मृतक की पत्नी अन्नक्कली ने सलेम गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में संवाददाताओं से कहा कि वह परिवार का एकमात्र कमाने वाला था और उसकी हत्या से वह और उसके तीन बच्चे अनाथ हो गए हैं।

एसआई पेरियास्वामी द्वारा मुरुगेसन की पिटाई करने की वीडियो क्लिपिंग, जबकि बाद में मुरुगेसन विनती कर रहे थे, वायरल हो गया है। वीडियो को एक रिश्तेदार ने शूट किया था जो मुरुगेसन के साथ था।

घटना के दौरान पेरियास्वामी के साथ तीन पुलिसकर्मी दिवाकर, मुरुगन और बालाजी थे।

पुलिस सूत्रों ने कहा कि मुरुगेसन अपने भतीजे सिवन बाबू और आर. शंकर के साथ पप्पीनेकेनपेट्टी चेक पोस्ट पार कर रहे थे। जब पुलिस ने दोपहिया वाहन को रोका, तो वे नशे की हालत में थे, इससे पुलिस और मुरुगेसन के बीच विवाद हो गया और पेरियास्वामी ने उनकी पिटाई कर दी।

इस भीषण घटना से ठीक एक साल पहले, थूथुकुडी जिले के सत्तनकुलम पुलिस स्टेशन में एक व्यापारी जयराज और उनके बेटे जे. बेनिक्स की बेरहमी से पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी।

अन्य ख़बरें

भारत में एक दिन में 41 हजार से ज्यादा कोविड मामले और 593 मौतें

Newsdesk

मेडिकल सीटों में ओबीसी, ईडब्ल्यूएस के लिए आरक्षण उप्र चुनाव में मदद करेगा : भाजपा

Newsdesk

एनआईए ने हिजबुल नार्को टेरर केस में पूरक आरोप पत्र दाखिल किया

Newsdesk

Leave a Reply