Seetimes
National Sports

हरभजन सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

नई दिल्ली, 24 दिसम्बर (आईएएनएस)| भारत के अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने शुक्रवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की। 41 वर्षीय खिलाड़ी ने 103 टेस्ट, 236 वनडे और 28 टी20 खेले। वहीं, इन मैचों में 417, 269 और 25 विकेट झटके। उन्होंने बल्ले से भी टीम में योगदान दिया है, जिसमें दो शतक और नौ अर्धशतक के साथ 3,569 रन बनाए।

हरभजन 2001 में ईडन गार्डन्स में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले पहले भारतीय बने थे। उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से संन्यास की घोषणा की।

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “आखिर में सभी अच्छी चीजें खत्म हो जाती हैं और आज जब मैं उस खेल को अलविदा कह रहा हूं, जिसने मुझे जीवन में सब कुछ दिया है। इसके लिए मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने इस 23 साल की लंबी यात्रा को सुंदर और यादगार बनाया। मैं दिल से उनका आभारी हूं।”

हरभजन ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, “मैं सार्वजनिक रूप से घोषणा करने के लिए पिछले कुछ सालों से इंतजार कर रहा था। मैं दिमाग से पहले ही संन्यास ले चुका था, लेकिन मैं आज घोषणा कर रहा हूं। जालंधर की सड़कों से टीम इंडिया के लिए टर्नबेटर बनने का मेरा सफर खूबसूरत रहा है। मेरे लिए जीवन में भारत की जर्सी पहनकर मैदान पर कदम रखने से बड़ी कोई और प्रेरणा नहीं है।”

41 वर्षीय खिलाड़ी ने 2007 में भारत की ऐतिहासिक टी20 विश्व कप में जीत और 2011 में वनडे विश्व कप की जीत में हिस्सा थे। महान ऑफ स्पिनर ने आखिरी बार 03 मार्च 2016 को टी20 विश्व कप में यूएई के खिलाफ भारत के लिए मैच खेला था।

हालांकि, वह लगातार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कई फ्रेंचाइजी का हिस्सा थे और पिछले सीजन में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के लिए खेले थे।

अन्य ख़बरें

मप्र में कोरोना संक्रमण के चलते स्कूलों को 31 के बाद खोलने पर संशय

Newsdesk

यूपी विधानसभा चुनाव : ‘सैफई महोत्सव’ पर योगी का तंज

Newsdesk

पिछले 3 महीनों में लगभग 30 हजार बिटकॉइन करोड़पतियों का हो गया सफाया

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy