9.5 C
Jabalpur
January 29, 2022
Seetimes
National

स्वामी प्रसाद मौर्य और सैनी ने अपने साथियों के साथ सपा का दामन थामा, बोले-यूपी को भाजपा के शोषण से मुक्त कराना है

लखनऊ, 14 जनवरी (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी सरकार से इस्तीफा देने वाले श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने शुक्रवार को मंत्री धर्म सिंह सैनी समेत कई साथियों के साथ समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया। इस दौरान स्वामी प्रसाद मौर्या ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा और कहा कि उत्तर प्रदेश को भाजपा के शोषण से मुक्त कराना है।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने इस अवसर पर कहा, “आज भाजपा के खात्मे का शंखनाद बज गया है। भाजपा ने देश और प्रदेश की जनता को गुमराह कर उनकी आंखों में धूल झोंकी है और जनता का शोषण किया है। अब भाजपा का खात्मा करके उत्तर प्रदेश को भाजपा के शोषण से मुक्त कराना है। ”

स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट कार्यालय में सैकड़ों समर्थक ढोल नगाड़ों के साथ मौजूद थे। यह सभी लोग जश्न मना रहे थे।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, “भाजपा के बड़े- बड़े नेता जो कुंभकरण नींद सो रहे थे, आज हमलोग के इस्तीफा देने के बाद उनकी नींद हराम हो गई है। उन्हें नींद ही नहीं आ रही है। अखिलेशजी पढ़े लिखे हैं नौजवान हैं और प्रदेश के लाखों लोगों का साथ उनके साथ मिलकर बीजेपी को निस्तनाबूत कर देंगे।”

उन्होंने आगे कहा, ” जिसका मैं साथ छोड़ता हूं उसका कोई वजूद नहीं रहता। हमारी बहनजी इसका जीता जागता सबूत है, बहन जी ने कांशीराम जी का नारा बदल दिया मैंने उसकी विरोध किया लेकिन नहीं मानी, और आज उनका कोई वजूद नहीं रहा।”

भाजपा के कुछ लोग कहते हैं कि 5 साल तक इस्तीफा क्यों नहीं दिया? और कुछ लोग कहते हैं की बेटे की वजह से इस्तीफा दिया। इस सवाल के जवाब पर स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, “भाजपा ने पिछड़ों की, दलितों और अल्पसंख्यक की आंख में धूल झोंक कर सरकार बनाई थी। उन्होंने कहा था कि मुख्यमंत्री होंगे यादव, मौर्य या कोई भी पिछड़े वर्ग का, लेकिन लोगों की आंखों में धूल झोंक कर गोरखपुर से ले आएं। 80 और 20 का नारा दे रहे हैं, तो मैं तो कहता हूं की 85 और 15 का है जिसमें 85 हमारा और 15 में भी बंटवारा है।”

उन्होंने कहा कि मैने सोचा था की इतने समय तक वनवास झेलने के बाद भाजपा अच्छा काम करेगी लेकिन भाजपा ने ऐसा नहीं किया। आज मैं भाजपा से कहना चाहता हूं की आज जो ये कार्यक्रम हो रहा है, इससे एक ऐसा तूफान चलेगा जिससे भाजपा के परखच्चे उड़ जाएंगे।

स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ शुक्रवार को पूर्व मंत्री डा.धर्म सिंह सैनी, विधायक भगवती प्रसाद सागर, विनय शाक्य, रोशनलाल वर्मा, डा. मुकेश वर्मा, ब्रजेश प्रजापति व चौैधरी अमर सिंह, पूर्व मंत्री अयोध्या प्रसाद पाल, पूर्व मंत्री रामहेत भारती, पूर्व विधायक नीरज मौर्य, बलराम सैनी, राजेंद्र प्रसाद पटेल, विद्रोही धनपत राम मौर्य, बंशी पहाडिया, अमर नाथ सिंह मौर्य, रामावतार सैनी, अली यूसुफ अली, आरके मौर्य, दामोदर मौर्य तथा बसपा प्रमुख मायावती के मुख्य सुरक्षा अधिकारी रहे पदम सिंह समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। भाजपा की सहयोगी अपना दल-एस के सिद्धार्थनगर के शोहरतगढ़ के विधायक चौधरी अमर सिंह भी सपा में शामिल हो गये।

अन्य ख़बरें

महाराष्ट्र में कोविड-19 के 24,948 नए मामले

Newsdesk

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 4,044 मामले

Newsdesk

बिहार में पुराने वाहनों को रद्द घोषित कर नए वाहनों की खरीद पर सरकार देगी कर में छूट

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy