42.5 C
Jabalpur
May 20, 2022
Seetimes
National

भारत दौरे पर आए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने स्विच मोबिलिटी के निवेश का किया स्वागत

लीड्स/चेन्नई, 21 अप्रैल (आईएएनएस)| ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने गुरुवार को अपनी व्यावसायिक यात्रा (ट्रेड विजिट) के दौरान स्विच मोबिलिटी एवं ब्रिटेन और भारत में इसके निवेश की प्रशंसा की।

दिल्ली और गुजरात की अपनी यात्रा के हिस्से के रूप में, जॉनसन ने स्विच को देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार को मजबूत करने वाले व्यवसाय के उदाहरण के रूप में स्वीकार किया।

ब्रिटेन और भारतीय व्यवसायों ने नए निवेश में 1 अरब पाउंड से अधिक की पुष्टि की है और इसके साथ ही स्विच ने इलेक्ट्रिक बसों और हल्के वाणिज्यिक वाहनों (कमर्शियल व्हीकल्स) की अपनी रेंज विकसित करने के लिए यूके और भारत में 30 करोड़ पाउंड निवेश करने की अपनी योजना की पुष्टि की।

जॉनसन ने कहा, “हम यूके में अगली पीढ़ी की स्वच्छ ग्रीन बसों को चलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं और स्विच मोबिलिटी उस क्रांति में सबसे आगे हैं। यह घोषणा यूके और भारत दोनों के लिए उच्च गुणवत्ता वाली नौकरियां और कौशल लाएगी और यह भविष्य के उद्योगों में हमारी साझेदारी का प्रमाण है।”

कंपनी द्वारा निवेश के हिस्से के रूप में यूके और भारत में 4,000 से अधिक कुशल रोजगार सृजित करने की उम्मीद के साथ, प्रधानमंत्री की यात्रा भारत के लिए कंपनी की नई 12 इलेक्ट्रिक बस के शुभारंभ और यूके में एक नए तकनीकी केंद्र की घोषणा के साथ हुई।

स्विच मोबिलिटी के चेयरमैन धीरज हिंदुजा ने इस पर बात करते हुए कहा, “हमें खुशी है कि प्रधानमंत्री ने यूके-इंडिया सहयोग के लाभों के उदाहरण के रूप में इलेक्ट्रिक ट्रांसपोर्टेशन में अग्रणी बनने के लिए स्विच में निवेश की सराहना की है। स्विच मोबिलिटी के गठन के बाद से। एक साल पहले स्विच मोबिलिटी के गठन के बाद से, हमने सार्वजनिक और वाणिज्यिक परिवहन के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों में बदलाव की गति में उल्लेखनीय वृद्धि देखी है।”

उन्होंने कहा, “लगभग 600 बसों के एक मजबूत ऑर्डर बैंक और पहले से ही महत्वाकांक्षी निवेश योजनाओं के साथ, हमारा मानना है कि हम इस विकास को भुनाने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। नई 12 मीटर बस को विशेष रूप से भारतीय बाजार की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए और 300 किमी तक की रेंज देने के लिए डिजाइन किया गया है।”

यूके में कंपनी के निवेश के हिस्से के रूप में, स्विच का नया तकनीकी केंद्र इसकी वैश्विक अनुसंधान और विकास (रिसर्च एंड डेवलपमेंट) टीम का केंद्र बिंदु होगा।

130 से अधिक कुशल नौकरियों का सृजन और मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी, रोजर ब्लेकी के नेतृत्व में केंद्र स्विच की अगली पीढ़ी के वाहनों के विकास पर ध्यान केंद्रित करेगा।

यह स्थल या वैन्यू जून 2022 में खुलने की उम्मीद है और यह चेन्नई, लीड्स और वेलाडोलिड में स्विच के मौजूदा आर एंड डी कार्यालयों के साथ मिलकर काम करेगा, जिसमें और 200 इंजीनियर काम करेंगे।

अन्य ख़बरें

सेरेंडिपिटी आर्ट्स ने कलाकारों को आमंत्रित करने के लिए ओपन कॉल की घोषणा की

Newsdesk

लोकतंत्र को बचाने के लिए वंशवादी राजनीति से लड़ना जरूरी: मोदी

Newsdesk

फ्रंट रनिंग’ के आरोपी फंड मैनेजर को एक्सिस म्युचुअल फंड ने बर्खास्त किया

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy