33.5 C
Jabalpur
October 3, 2022
Seetimes
जीवनशैली

सबकॉन्शियस माइंड को मजबूत बनाए रखने के लिए अपनाएं ये पांच तरीके

सबकॉन्शियस माइंड यानी अवचेतन मन एक तरह की मार्गदर्शन प्रणाली है, जो हमारे पिछले अनुभव, विश्वास, याद और कौशल को इक_ा करती है। इससे मतलब है कि जो कुछ आपने देखा, किया या सोचा वह सब आपके सबकॉन्शियस माइंड में स्टोर हो जाता है। अगर आप जीवन में सफलता और आनंद पाना चाहते हैं तो इसके लिए आपके सबकॉन्शियस माइंड का मजबूत होना जरूरी है। आइए सबकॉन्शियस माइंड को मजबूत बनाए रखने में मदद करने वाले पांच तरीके जानते हैं। अच्छी चीजों की सराहना करें और अपनी संतुष्टी जताएंजीवन में आपके पास जो कुछ भी है, उसके लिए धन्यवाद करें और अच्छी चीजों की सराहना करें। हमेशा कुछ चाहने या चीजों को बदलने का प्रयास करने की बजाय अपने पास उपलब्ध चीजों के लिए खुश रहें। इसके लिए आप एक पत्रिका में अपना आभार व्यक्त करें और अपने सबकॉन्शियस माइंड को यह विश्वास दिलाना शुरू करें कि आपको अधिक की आवश्यकता नहीं है और आपके पास जो कुछ भी है वह अभी के लिए पर्याप्त है। हमेशा खुद को सकारात्मक रखने का प्रयास करेंहर दिन खुद को आगे बढऩे के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित करें, क्योंकि कुछ छोटी-छोटी बातें आपके जीवन में सकारात्मकता और खुशियां लाने में मदद कर सकती हैं। नकारात्मक सोच या विचारों से बचें और अपने आप को सकारात्मक रखने की भरपूर कोशिश करें। इसके अलावा अपने लक्ष्यों, खुशी और सकारात्मक चीजों को लेकर अपनों से बातचीत करते रहें। इसी तरह सकारात्मक रहने वाले लोगों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने का प्रयास करें। विजुअलाइजेशन का अभ्यास करेंकान और नाक जैसी अपनी कुछ इंद्रियों का इस्तेमाल करके विजुअलाइजेशन का अभ्यास करें। जीवन दृष्टि पर स्पष्टता प्राप्त करने के लिए धीरे-धीरे चीजों की बनावट, रंग, स्पर्श और स्वाद को समझें और फिर तय करें कि आप अपने जीवन में क्या चाहते हैं। इसी तरह यह भी समझें कि आप अपनी जिंदगी कैसे जीना चाहते हैं और इसकी एक स्पष्ट छवि की कल्पना करें। यह तरीका आपको सटीक फैसला लेने में मदद कर सकता है। खुद पर उंगली न उठाएंआपके आस-पास के कुछ लोग आपकी क्षमताओं पर संदेह कर आपको खुद पर उंगली उठाने पर मजबूर कर सकते हैं, लेकिन आपको इन सब से बचना चाहिए। नकारात्मकता से बचने के लिए आपको अपने स्वयं के निर्णयों पर ध्यान देना होगा। जब आप किसी काम से डरते हैं या असहज महसूस करते हैं तो अपने आप से सवाल करें कि आप ऐसा क्यों महसूस कर रहे हैं। इसके बाद शांत होकर अपने काम को फिर से करने की कोशिश करें। नियमित रूप से मेडिटेशन करेंसबकॉन्शियस माइंड मजबूत करने के लिए एक्सरसाइज के रूप में मेडिटेशन करना भी अच्छा उपाय है। रोजाना मेडिटेशन करने से मस्तिष्क के तंत्रिका मार्ग बदल जाते हैं, जो नकारात्मक कारकों को दूर करने में सहायता करते हैं। इसके लिए सबसे पहले जमीन या कुर्सी पर सीधे बैठ जाएं और अपनी आंखों को बंद कर तेजी से ? का जाप करें या सकारात्मक सोचें। रोजाना इस प्रक्रिया को पांच-छह बार दोहराएं।

अन्य ख़बरें

ना करें प्लास्टिक बोतल में पानी पीने की गलती, सेहत को होते हैं ये नुकसान

Newsdesk

क्या आपके घर पर भी होता हैं बच्चों में झगड़ा, इन तरीकों से संभाले यह परिस्थिति

Newsdesk

आज का राशिफल 03-Oct-2022

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy