Seetimes
Headlines Sports

फ्रेंच ओपन : जोकोविच ने जीता 19वां ग्लैंड स्लैम, बारबोरा को दोहरी सफलता

पेरिस, 14 जून (आईएएनएस)| विश्व के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी सíबया के नोवाक जोकोविच ने पांचवीं सीड ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास को हराकर रविवार को फ्रेंच ओपन पुरुष एकल वर्ग का खिताब जीत लिया। इसके साथ ही उन्होंने अपने करियर का 19वां ग्रैंड स्लैम खिताब अपने नाम किया है। उधर शनिवार को महिला एकल खिताब जीतने के एक दिन बाद चेक गणराज्य की बारबोरा क्रेसीकोवा ने रविवार को दोहरी सफलता हासिल करते हुए हमवतन कैटरिना सिनियाकोवा के साथ मिलकर युगल खिताब भी अपने नाम कर लिया।

दूसरी सीड चेक गणराज्य की जोड़ी ने महिला युगल वर्ग के फाइनल में 14वीं सीड पोलैंड की इगा स्विएतेक और अमेरिका की बैथनी मैटेक सेंडस की जोड़ी को एक घंटे 14 मिनट तक चले मुकाबले में 6-4 6-2 से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया।

बहरहाल, जोकोविच ने चार घंटे 11 मिनट तक चले कड़े मुकाबले में सितसिपास को 6-7, 2-6, 6-3, 6-2, 6-4 से हराकर खिताब अपने नाम किया।

जोकोविच इसके साथ ही सभी चार ग्रैंड स्लैम को कम से कम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले और ओवरऑल तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं। उनसे पहले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व टेनिस खिलाड़ी रॉय एमर्सन और ऑस्ट्रेलिया के ही पूर्व खिलाड़ी रॉड लेवर ने यह कारनामा किया था।

सर्बियाई खिलाड़ी ने इससे पहले 2016 में ब्रिटेन के एंडी मरे को हराकर फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था। जोकोविच के करियर का यह दूसरा फ्रेंच ओपन खिताब है और इसके साथ ही उन्होंने अपने करियर में 19 ग्रैंड स्लैम जीत लिए हैं। जोकोविच स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर और स्पेन के राफेल नडाल के रिकॉर्ड 20 ग्रैंड स्लैम से अब महज एक कदम दूर रह गए हैं।

इससे पहले, सितसिपास ने जोकोविच को कड़ी टक्कर दी और पहले दो 7-6, 6-2 से अपने नाम किए। इस वक्त ऐसा लग रहा था कि सर्बियाई खिलाड़ी यह मुकाबला हार जाएंगे लेकिन विश्व के नंबर-1 खिलाड़ी ने जोरदार तरीके से वापसी की और अगले तीन सेट अपने नाम कर फ्रेंच ओपन का खिताब अपने नाम किया।

जोकोविच ने फ्रेंच ओपन में 13 बार के विजेता नडाल को सेमीफाइनल में हराकर खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया था। जोकोविच से पहले, ओपन एरा में चार खिलाड़ी ऐसे रहे हैं जिन्होंने रोलां गैरो फाइनल में दो सेट से पिछड़ने के बाद रैली की थी। वे थे- ब्योर्न बोर्ग (1974), इवान लेंडल (1984), आंद्रे अगासी (1999), और गैस्टन गौडियो (2004)। ओपन एरा में एक और ग्रैंड स्लैम में यह उपलब्धि हासिल करने वाले एकमात्र खिलाड़ी डोमिनिक थिएम थे, जिन्होंने पिछले साल यूएस ओपन के फाइनल में ऐसा किया था।

महिला युगल की बात की जाए तो बारबोरा और कैटरीना का एक साथ यह तीसरा खिताब है। 2018 में इन्होंने यहां अपना पहला युगल खिताब जीता था और इसके बाद अगले ही महीने विंबलडन की भी चैंपियन बनीं थी।

बारबोरा का अब तक का यह सातवां खिताब है। वह मौजूदा दौर में एकमात्र एक्टिव खिलाड़ी हैं, जिन्होंने किसी एक सीजन में एकल, युगल और मिश्रित वर्ग में कोई ग्रैंड स्लैम खिताब जीता है। उनसे पहले फ्रांस की मैरी पियसे ने 2000 में एक सीजन में दो खिताब जीते थे।

बारबोरा ने शनिवार को रूस की अनासतासिया पावलिउचेंकोवा को हराकर महिला एकल वर्ग का खिताब जीता था। बारबोरा इतिहास में मात्र सातवीं ऐसी महिला खिलाड़ी बन गई हैं, जिन्होंने रोलां गैरों में एकल और युगल खिताब जीते हैं।

उनसे पहले पिछली बार 2016 में अमेरिका की सेरेना विलियम्स ने विंबलडन में महिला एकल और युगल वर्ग का खिताब जीता था। इस जीत के साथ ही बारबोरा सोमवार को जारी होने वाली डब्ल्यूटीए की युगल रैंकिंग में नंबर एक खिलाड़ी बन जाएंगी।

बारबोरा ने कहा, “मैं बहुत खुश हूं। मैं कैटरिना की शुक्रगुजार हूं जो यहां मेरे साथ थीं। कल के मुकाबले की तुलना में आज चीजें ज्यादा आसान थी।”

उन्होंने कहा, “मुझे खुशी है कि हमारे नाम पर एक और खिताब जुड़ गया है। हम आगे विंबलडन और ओलंपिक में इस प्रदर्शन को बरकरार रखने के लिए उत्साहित हैं। मैं उम्मीद करती हूं कि हमारा भविष्य उज्वल रहे।”

अन्य ख़बरें

भारत में कोविड मामलों में उछाल, एक दिन में 42,625 मामले हुए दर्ज

Newsdesk

ओलंपिक (कुश्ती) : रवि और दीपक ने सेमीफाइनल में बनाई जगह

Newsdesk

ओलंपिक (मुक्केबाजी) : लवलीना को सेमीफाइनल में मिली हार, कांस्य से करना पड़ा संतोष

Newsdesk

Leave a Reply