Seetimes
Sports

इंग्लैंड से ड्रॉ खेलने के बाद मिताली ने अधिक टेस्ट खेलने की वकालत की

ब्रिस्टल, 20 जून (आईएएनएस)| भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने खेल के सबसे लंबे प्रारूप की कठोरता के अभ्यस्त होने में मदद करने के लिए और अपनी टीम के लिए और अधिक टेस्ट मैच खेलने की वकालत की है। भारतीय टीम ने स्नेह राणा (नाबाद 80) और तानिया भाटिया (नाबाद 44) के बीच नौवें विकेट के लिए हुई 99 रनों की अविजित साझेदारी के दम पर यहां काउंटी क्रिकेट ग्राउंड पर इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट मुकाबले के चौथे दिन शनिवार को मैच को ड्रॉ करा दिया।

इंग्लैंड ने दूसरे दिन नौ विकेट पर 396 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित की थी जबकि भारत की पहली पारी आज पहले सत्र में 231 रनों पर सिमट गई । इससे इंग्लैंड को 165 रनों की बड़ी बढ़त हासिल हुई, जिसके बाद उसने भारत को फोलोऑन खेलने पर मजबूर कर दिया।

मिताली ने मैच के बाद कहा, ” पांच दिवसीय टेस्ट होना एक अच्छा विचार है लेकिन (पहले) हमें वास्तव में नियमित रूप से टेस्ट मैच शुरू करने होंगे।”

भारतीय महिला टीम करीब सात साल बाद अपना पहला टेस्ट मैच खेल रही थी। टीम ने पिछले पांच दशक में केवल 36 टेस्ट मैच खेले हैं। भारतीय टीम ने 2010 से 2020 तक केवल दो ही टेस्ट मैच खेले हैं।

मिताली ने कहा, ” एक सीरीज में एक टेस्ट मैच का होना महत्वपूर्ण है और फिर इसे पांच दिनों तक ले जाएं। मैं पांच दिवसीय टेस्ट के साथ भी ठीक हूं, लेकिन मैं एक सीरीज में पहले एक टेस्ट मैच करना पसंद करूंगा और फिर इसे वहां से ले जाऊंगा।”

भारतीय महिला क्रिकेट टीम को अब इंग्लैंड के साथ वनडे और टी 20 सीरीज खेलनी है।

अन्य ख़बरें

ओलंपिक (मुक्केबाजी) : भारत की लवलीना क्वार्टर फाइनल में पहुंचीं

Newsdesk

ओलंपिक (बैडमिंटन) : तीसरा ग्रुप मैच में जीतकर भी पदक की दौड़ से बाहर हुए सात्विक-चिराग

Newsdesk

ओलंपिक (निशानेबाजी) : सौरव, मनु, अभिषेक और देसवाल ने मिश्रित टीम इवेंट में किया निराश

Newsdesk

Leave a Reply