Seetimes
Town

‘बाबा का धाबा’ मालिक की सेहत में आया सुधार, अस्पताल के वेंटिलेटर से हटे

नई दिल्ली, 20 जून (आईएएनएस) । दक्षिणी दिल्ली के मालवीय नगर में स्थित ‘बाबा का ढाबा’ के मालिक 81 वर्षीय कांता प्रसाद की हालत में सुधार हुआ है। हालत में सुधार के चलते उन्हें वेंटिलेटर से हटा दिया गया है। सफदरजंग अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार, बाबा कांता प्रसाद को थोड़ी देर पहले ही वेंटिलेटर से हटा दिया गया है। उनकी हालत में पहले से सुधार है।

दरअसल कांता प्रसाद द्वारा कथित रूप से आत्महत्या करने की कोशिश की गई थी, जिसके बाद उन्हें दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती किया गया था।

बाबा के बेटों ने आईएएनएस को जानकारी देते हुए बताया कि, पिताजी जी की सेहत में सुधार होने के कारण कुछ देर पहले ही पिताजी को वेंटिलेटर से हटाया गया है लेकिन अभी वह किसी से बात नहीं कर पा रहें हैं।

दरअसल बाबा का धाबा मालिक कांता प्रसाद पिछले साल तब सुर्खियों में आए थे, जब उनका लॉकडाउन के दौरान एक वीडियो वायरल हुआ था। इस वीडियो में उनके ढाबे में ग्राहकों की कमी और आर्थिक संकट के बारे में बात कही गई थी। जिसके बाद बाबा का रातों रातों सुर्खियों में छा गए और उन्हें देशभर से आर्थिक मदद की गई।

बाबा का यह वीडियो यू-ट्यूबर गौरव वासन ने शूट करके अपलोड किया था, लेकिन बाद में बाबा कांता प्रसाद द्वारा गौरव वासन के खिलाफ पैसों को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई गई।

बाबा को मिली आर्थिक सहायता से उन्होंने एक रेस्टोरेंट खोल लिया लेकिन यह रेस्टोरेंट ज्यादा दिन नहीं चल सका था। महामारी के चलते लगा लॉकडाउन में ग्राहक न आना और कमाई न होने के कारण बाबा को रेस्टोरेंट बंद करना पड़ा, जिसके बाद बाबा फिर अपने पुराने ढाबे पर लौट आए थे।

हाल ही में एक बार फिर से गौरव वासन और कांता प्रसाद की मुलाकात हुई थी, जिसमें बुजुर्ग ने यू-ट्यूबर से माफी मांग ली थी।

अन्य ख़बरें

भारत ने प्लास्टिक कचरे का उपयोग करके 703 किमी राजमार्गों का निर्माण किया

Newsdesk

बिहार : बकाया मानदेय भुगतान की मांग कर रहे वार्ड सचिवों पर पुलिस ने भांजी लाठियां

Newsdesk

बिहार विधानसभा में हंगामा, राजद विधायक ‘बेईमान’ शब्द कहने पर घिरे

Newsdesk

Leave a Reply