Seetimes
Sports

कोलंबो वनडे : चाहर ने बल्ले से दिखाया जलवा, भारत 2-0 से आगे 

कोलंबो, 20 जुलाई (आईएएनएस)| भारतीय क्रिकेट टीम ने मंगलवार को यहां आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए रोमांच से भरपूर दूसरे वनडे मुकाबले में श्रीलंका को 3 विकेट से हरा दिया। भारत की जीत में दीपक चाहर (नाबाद 69, 82 गेंद, 7 चौके, 1 छक्का) और भुवनेश्वर कुमार (नाबाद 19 रन, 28 गेंद, 2 चौके) की अहम भूमिका रही। दोनों ने आठवें विकेट के लिए नाबाद 84 रनों की साझेदारी कर हारा हुआ मैच भारत की झोली में डाल दिया। चाहर और भुवनेश्वर की बहादुरी का ही नतीजा है कि तीन मैचों की सीरीज में भारत ने 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है। पहले वनडे मे भारत ने मेजबान टीम को सात विकेट से हराया था।

पहले मैच के उलट मेजबान टीम सराहनीय प्रदर्शन करते हुए एक समय जीत की ओर अग्रसर थी लेकिन चाहर और भुवनेश्वर ने बल्ले के साथ कमाल करते हुए उससे जीत छीन ली।

पहले बैटिंग करते हुए उसने भारत को 276 रनों का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य दिया और फिर 193 रनों पर उसके सात विकेट झटक लिए थे लेकिन इसके बाद अपना पहला अर्धशतक लगाने वाले चाहर ने भुवनेश्वर के साथ आठवें विकेट के लिए 84 रनों की नाबाद साझेदारी कर पासा पलट दिया।

भारत ने 49.1 ओवरों में सात विकेट पर लक्ष्य हासिल कर लिया।

भारत की ओर से चाहर के अलावा अपना दूसरा वनडे खेल रहे सूर्यकुमार यादव ने 53 रन बनाए। यह वनडे में उनका पहला अर्धशतक है। इसके अलावा मनीष पांडे ने 37, क्रूणाल पांड्या ने 35 रन जोड़े। कप्तान शिखर धवन के बल्ले से 29 रन निकले।

श्रीलंका की ओर से वानिंदू हसारांगा ने तीन विकेट लिए।

इससे पहले, चरीथ असालंका (65) और अविष्का फर्नाडो (50) की शानदार पारियों की मदद से श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में नौ विकेट पर 275 रन बनाए।

भारत की तरफ से भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल ने तीन-तीन विकेट और दीपक चाहर ने दो विकेट लिए।

फर्नाडो ने मिनोद के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 77 रन जोड़े। इस साझेदारी को चहल ने मिनोद को आउट कर तोड़ा जिन्होंने 42 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 36 रन बनाए। इसकी दूसरी ही गेंद पर चहल ने भानुका राजपक्षा को खाता खोले बिना आउट किया।

फर्नाडो ने इसके बाद अर्धशतक पूरा किया लेकिन इसके बाद वह ज्यादा देर अपनी पारी आगे नहीं बढ़ा सके और भुवनेश्वर की गेंद पर आउट हुए। चाहर ने फिर धनंजय डी सिल्वा (32) को आउट कर श्रीलंका को चौथा झटका दिया। इसके बाद चहल ने कप्तान दासुन शनाका (16) को बोल्ड कर आउट किया।

नए बल्लेबाज के रूप में उतरे वनिंदु हसारंगा (8) को चाहर ने बोल्ड किया। असालंका ने फिर एक छोर से पारी को संभाला लेकिन भुवनेश्वर ने उनकी पारी का अंत कर दिया। फिर भुवनेश्वर ने दुश्मंथा चमीरा (2) को आउट किया। अंतिम ओवर की तीसरी गेंद पर लक्ष्न संदाकन खाता खोले बिना रन आउट हुए।

श्रीलंका की पारी में चमीका करूणारत्ने 33 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से नाबाद 44 और कासुन रजीथा एक गेंद पर एक रन बनाकर नाबाद रहे।

अन्य ख़बरें

ओलंपिक (कुश्ती) : रवि और दीपक ने सेमीफाइनल में बनाई जगह

Newsdesk

ओलंपिक (मुक्केबाजी) : लवलीना को सेमीफाइनल में मिली हार, कांस्य से करना पड़ा संतोष

Newsdesk

सिंधु भारत की महानतम ओलंपियनों में से एक : खेल मंत्री ठाकुर

Newsdesk

Leave a Reply