Seetimes
Lifestyle

बिहार: महाष्टमी के दिन नीतीश ने विभिन्न मंदिरों में की पूजा अर्चना, राज्य के लिए मांगी खुशहाली

पटना, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)| बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को शारदीय नवरात्र की महाअष्टमी तिथि के मौके पर राजधानी पटना के विभिन्न मंदिरों में पहुंचकर पूजा अर्चना की और राज्य की तरक्की और खुशहाली के लिए प्रार्थना की। मुख्यमंत्री महाष्टमी के मौके पर पटना के अगमकुआं स्थित शीतला माता मंदिर जाकर मां शीतला देवी, पटना सिटी स्थित बड़ी पटनदेवी मंदिर और छोटी पटनदेवी मंदिर जाकर पूजा अर्चना की। पुरोहितों ने मंत्रोच्चारण के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को विधिवत पूजा करवाई।

मुख्यमंत्री ने मां शीतला देवी, मां बड़ी पटनदेवी एवं मां छोटी पटनदेवी से राज्य की सुख समृद्धि, शांति एवं प्रगति की कामना की।

मुख्यमंत्री ने मारूफगंज स्थित बड़ी देवी जी तथा दलहट्टा देवी जी जाकर मां भगवती दुर्गा की भी पूजा अर्चना की। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को मारूफगंज मारवाड़ी सेवा समिति द्वारा अंगवस़्त्र, पाग एवं प्रतीक चिह्न् भेंटकर सम्मानित किया गया।

पूजा अर्चना के दौरान शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, पटना नगर निगम की महापौर सीता साहू सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

पूजा अर्चना के बाद पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, हमलोग महाष्टमी के दिन माता के दर्शन करने आते रहते हैं। पिछले साल कोरोना के कारण सबकुछ प्रतिबंधित था, जिस कारण नहीं आ पाए थे। आज यहां आने पर प्रसन्नता हो रही है।

शारदीय नवरात्र के मौके पर राजधानी पटना सहित राज्य के सभी इलाकों में भक्तिमय माहौल बना हुआ है। महाष्टमी पूजा के लिए पंडालों में भीड़ लगी हुई है। पंडालों में दुर्गा प्रतिमा के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ रहा है।

कोरोनाकाल के बाद इस बार पूजा का उत्साह पूरे चरम पर है। शहरी इलाकों के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों से भी लोगों में दुर्गा पूजा को लेकर उत्साह है। ग्रामीण क्षेत्रों में भी मंदिरों और पंडालों में भीड़ लगी है।

अन्य ख़बरें

किस वजह से डेल्टा, डेल्टा प्लस कोविड वेरिएंट अधिक खतरनाक बने?

Newsdesk

कोलकाता में पूजा में भीड़ जमा होने के बावजूद कोविड संक्रमण दर में आई कमी

Newsdesk

कर्नाटक के मंत्री ने कोविड पीड़ितों के 1,200 लावारिस शवों का किया पिंडदान

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy