Seetimes
National

कोरोनावायरस की तीसरी लहर फरवरी में चरम पर होगी : आईआईटी-के शोधकर्ता

कानपुर, 24 दिसम्बर (आईएएनएस)| आईआईटी कानपुर (आईआईटी-के) के शोधकर्ताओं ने अनुमान लगाया है कि कोरोना महामारी की तीसरी लहर 3 फरवरी, 2022 तक भारत में चरम पर होगी, क्योंकि नए कोरोना ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं।

ऑनलाइन प्रीप्रिंट हेल्थ सर्वर मेडआरएक्स में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि “दुनिया भर के रुझानों के बाद, इस प्रोजेक्ट रिपोर्ट का अनुमान है कि भारत की तीसरी लहर दिसंबर के मध्य में शुरू हो सकती है और फरवरी की शुरूआत में चरम पर हो सकती है।”

टीम ने तीसरी लहर का अनुमान लगाने के लिए गॉसियन मिक्सचर मॉडल नामक एक सांख्यिकीय उपकरण का इस्तेमाल किया है।

शोध रिपोर्ट में देश में संभावित तीसरी लहर का अनुमान लगाने के लिए भारत में पहली और दूसरी लहरों के डेटा और कई देशों में ओमिक्रॉन के मामलों में आई वर्तमान वृद्धि का उपयोग किया गया है।

शोधकर्ताओं ने कहा कि “अध्ययन के अनुसार, शुरूआती तारीख 30 जनवरी, 2020 से 735 दिनों के बाद मामले बढ़ गए थे, जब भारत ने कोरोना के अपने पहले आधिकारिक मामले की सूचना दी थी। इसलिए कोरोना के मामले 15 दिसंबर, 2021 के आसपास बढ़ने लगे हैं और यह तीसरी लहर का चरम गुरुवार 3 फरवरी, 2022 को होगा।”

गणित और सांख्यिकी विभाग, आईआईटी-के से तैयार की गई शोध टीम में सबरा प्रसाद राजेशभाई, सुभरा शंकर धर और शलभ शामिल हैं।

अन्य ख़बरें

मप्र में कोरोना संक्रमण के चलते स्कूलों को 31 के बाद खोलने पर संशय

Newsdesk

यूपी विधानसभा चुनाव : ‘सैफई महोत्सव’ पर योगी का तंज

Newsdesk

पिछले 3 महीनों में लगभग 30 हजार बिटकॉइन करोड़पतियों का हो गया सफाया

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy