24.8 C
Jabalpur
December 2, 2021
Seetimes
National Technology

ओप्पो ने अपनी भारतीय प्रयोगशाला से पहली 5जी कॉल का किया संचालन

हैदराबाद, 25 नवंबर (आईएएनएस)| ओप्पो ने गुरुवार को घोषणा की है कि उसने हैदराबाद 5जी लैब से अपना पहला वीओएनआर (वॉयस/वीडियो ऑन न्यू रेडियो) कॉल सफलतापूर्वक किया है। 5जी वीओएनआर (वॉयस/वीडियो ऑन न्यू रेडियो) कॉल लेटेस्ट रेनो6 सीरीज स्मार्टफोन और ओप्पो के हैदराबाद 5जी इनोवेशन लैब में कीसाइट टेस्ट सॉल्यूशंस द्वारा संचालित एंड-टू-एंड 5जी स्टैंडअलोन (एसए) नेटवर्क का उपयोग करके किए गए थे।

ओप्पो इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट और इंडिया आर एंड डी हेड तसलीम आरिफ ने एक बयान में कहा, “हमारी हैदराबाद स्थित 5जी लैब से वीओएनआर कॉल ओप्पो की इनोवेशन यात्रा में एक और मील का पत्थर है। भारत में 5जी अग्रणी के रूप में, टीम 5जी तकनीक की वास्तविक क्षमता का पता लगाने और भारतीय उपभोक्ताओं के लिए बेहतर 5जी अनुभव लाने के लिए काफी प्रगति कर रही है।”

5जी वीओएनआर उपलब्धि, कीसाइट ई7515बी यूएक्सएम 5जी वायरलेस टेस्ट प्लेटफॉर्म का उपयोग करते हुए 5जी कोर नेटवर्क, 5जी आरएएन और एक आईएमएस सर्वर का अनुकरण करते हुए पूरी हुई, जो लेटेस्ट 3जीपीपी रिलीज 15 सुविधाओं और उससे आगे का समर्थन करने वाला एक अत्यधिक एकीकृत सिग्नलिंग परीक्षण प्लेटफॉर्म है। यह रेनो6 उपकरणों के साथ 5जी कॉल को विभिन्न 5जी न्यू रेडियो (एनआर) परिनियोजन मोड में सक्षम करता है।

वीओएनआर, या ‘वॉयस ओवर 5जी न्यू रेडियो’ एक बुनियादी कॉल सेवा है जो 5जी नेटवर्क के एसए आ*++++++++++++++++++++++++++++र्*टेक्च र का पूरी तरह से उपयोग करती है। पहले की कॉल सेवाओं की तुलना में, वीओएनआर काफी कम विलंबता, बेहतर ध्वनि गुणवत्ता और तस्वीर की गुणवत्ता प्रदान करता है, जिसके परिणामस्वरूप यूजर्स के लिए एक उन्नत समग्र अनुभव होता है।

एसए आ*++++++++++++++++++++++++++++र्*टेक्च र भविष्य के 5जी नेटवर्क के प्राथमिक आ*++++++++++++++++++++++++++++र्*टेक्च र में से एक है। दुनिया भर के ऑपरेटर सक्रिय रूप से 5जी एसए नेटवर्क की नींव रख रहे हैं। ओप्पो इंडिया नेटवर्क के तहत समाधानों की तैनाती पर भी काम कर रहा है।

अन्य ख़बरें

ममता बनर्जी के बयान पर कांग्रेस ने साधा निशाना, आत्ममंथन करने की दी सलाह

Newsdesk

मुंबई पुलिस ने कोविड प्रोटोकॉल के लिए रणवीर सिंह की फिल्म ’83’ के डायलॉग का इस्तेमाल किया

Newsdesk

स्कूली छात्रों को वेद आधारित शिक्षा भी प्रदान की जाए: संसदीय समिति

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy