25.5 C
Jabalpur
December 2, 2022
सी टाइम्स
अंतराष्ट्रीय

पेलोसी ने पहली महिला यूएस स्पीकर के रूप में ऐतिहासिक कार्यकाल पूरा किया

वाशिंगटन ,18 नवंबर। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की पहली महिला अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने अपना ऐतिहासिक कार्यकाल पूरा किया और घोषणा की कि वह अब सिर्फ एक सदस्य के रूप में बनी रहेंगी। पेलोसी को अक्सर अमेरिकी राजनीति में सबसे शक्तिशाली महिला के रूप में जाना जाता है। पहले से उम्मीद की जा रही थी कि वह मध्यावधि चुनाव के बाद नई कांग्रेस बनते ही पद छोड़ देंगी। उनके इस्तीफे की घोषणा पर उनकी पार्टी के कई सांसदों ने आंसू बहाए और समाचार साइटों और टीवी समाचार मीडिया पर बैनर की सुर्खियां बटोरीं।
स्पीकर पेलोसी ने हाउस फ्लोर पर एक बहुप्रतीक्षित भाषण में कहा, अब नई पीढ़ी के लिए डेमोक्रेटिक कॉकस का नेतृत्व करने का समय आ गया है, जिसका मैं बहुत सम्मान करती हूं। मैं आभारी हूं कि इतने सारे लोग इस बड़ी जिम्मेदारी को उठाने के लिए तैयार हैं।
उन्होंने कहा कि वह जनवरी 2023 में सदन में डेमोक्रेटिक कॉकस की प्रमुख के रूप में फिर से चुनाव नहीं लड़ेंगी और सिर्फ एक सदस्य के रूप में रहेंगी और सलाह के लिए पार्टी नेतृत्व के लिए उपलब्ध रहेंगी। मध्यावधि चुनाव में डेमोकेट्र्स ने रिपब्लिकन पार्टी के हाथों सदन का नियंत्रण खो दिया और पेलोसी के उत्तराधिकारी को आधिकारिक तौर पर अल्पसंख्यक नेता कहा जाएगा।
पेलोसी अपने जीवन पर महात्मा गांधी का प्रभाव मानती हैं। उन्होंने 2019 में गांधी जयंती समारोह में मार्टिन लूथर किंग जूनियर के गांधी के सत्याग्रह और अहिंसक संघर्ष की अवधारणा से प्रेरित होने का जिक्र करते हुए कहा था कि महात्मा गांधी ने दुनिया में और हमारे देश में सभी भेदभाव मिटाने की भावना पैदा की।
पेलोसी ने कहा था, यह हम पर एक कर्ज है जो हमें भारत को चुकाना है।
अध्यक्ष ने कई बार भारत का दौरा किया है। एक प्रसिद्ध चीन-आलोचक होने के नाते, उन्होंने 2008 और 2007 में धर्मशाला में दलाई लामा से मुलाकात की थी, जिससे बीजिंग नाराज हो गया था। लेकिन यात्राओं को लेकर चीन के नखरों से वह कभी विचलित नहीं हुईं। चीनी जवाबी कार्रवाई की चीनी धमकियों के बावजूद उन्होंने इस साल की शुरुआत में ताइवान की यात्रा की।
पेलोसी ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ तिरस्कार का व्यवहार किया। पेलोसी की 2020 में ट्रंप के स्टेट ऑफ द यूनियन भाषण की एक प्रति को फाडऩे की तस्वीरें छपी थीं।
पेलोसी ने अपने पिता थॉमस डीÓएलेसेंड्रो जूनियर से प्रेरित होकर राजनीति में आईं, जो सदन के पूर्व सदस्य और बाल्टीमोर के तीन-कार्यकाल के मेयर थे। वह पहली बार 1987 में सदन के लिए चुनी गईं और 2001 में पार्टी रैंकों के माध्यम से अल्पसंख्यक व्हिप बनीं। साल 2007 में पहली महिला अध्यक्ष बनकर उन्होंने इतिहास रचा। उन्होंने अध्यक्ष के रूप में दो कार्यकाल पूरा किए।

अन्य ख़बरें

ढाई हजार साल की विरासत वाले सबसे बड़े लोकतंत्र के रूप में भारत को उपदेश देने की जरुरत नहीं: कांबोज

Newsdesk

युद्ध शुरू होने के बाद से 13 हजार से अधिक यूक्रेनी सैनिक मारे गए: अधिकारी

Newsdesk

यूक्रेन दूतावास विस्फोट के बाद स्पेन पुलिस चार और उपकरणों की जांच कर रही

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy