16.5 C
Jabalpur
December 1, 2022
सी टाइम्स
राष्ट्रीय

सीएम भगवंत मान की गुजरात में हुंकार, कमल को हराने के लिए कीचड़ साफ़ करेगा झाड़ू

दाहोद ,08 अक्टूबर (आरएनएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने शनिवार को कहा कि कमल चाहे कीचड़ में खिलता है परन्तु झाड़ू गुजरात में इस कीचड़ को सफ़ाई करेगा, जिससे राज्य में से ‘कमल के सफाएÓ का रास्ता साफ हो जाएगा। यहाँ एक सार्वजनिक रैली के दौरान उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गुजरात में बदलाव की हवा बह रही है। उन्होंने कहा कि 27 सालों के बाद एक ऐसा दृश उभरा है, जहाँ झाड़ू ( आम आदमी पार्टी) राज्य में से कमल ( भाजपा) को बाहर का रास्ता दिखाऐगा। भगवंत मान ने कहा कि राज्य में कांग्रेस पहले ही वेंटिलेटर पर है और मुख्य मुकाबला ÓआपÓ और भाजपा के बीच है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी की रैलियों में भारी हाजिऱी इस बात का प्रतीक है कि लोग मौजूदा सरकार से ऊब चुके हैं। उन्होंने कहा कि लोग इस निकम्मी, ज़ालिम और भ्रष्ट सरकार से बदलाव चाहते हैं। भगवंत मान ने कहा कि वह झूठे सपने नहीं बेच रहे, बल्कि लोग सिस्टम बदलने का समर्थन कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में कुदरती स्रोतों की बहुतायत है परन्तु अफ़सोस है कि नेताओं ने अपने भ्रष्ट कामों के साथ देश को बर्बाद कर दिया है। भगवंत मान ने कहा कि देश निवासी, इन भ्रष्ट नेताओं को बाहर का रास्ता दिखाने के लिए आगे आएं। पंजाब में आम आदमी सरकार की कई अहम पहलकदमियों का जिक्र करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि पहली जुलाई से पंजाब सरकार ने हर बिल पर लोगों को 600 यूनिट बिजली मुफ़्त मुहैया करवाई है। उन्होंने बताया कि इसके नतीजे के तौर पर सितम्बर महीने में कुल 72.66 लाख में से 50 लाख घरों का बिजली का बिल ज़ीरो आया है। भगवंत मान ने कहा कि पिछले छह महीनों में 17 हज़ार से अधिक नौजवानों को सरकारी नौकरियां दी गई हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह नौकरियां केवल मेरिट के आधार पर मुहैया करवाई गई हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब में गुजरात की तरह भर्ती परीक्षा लीक होने जैसी कोई दोषपूर्ण व्यवस्था नहीं है।

भगवंत मान ने कहा कि नौकरियां पूरी तरह पारदर्शी प्रक्रिया के द्वारा दीं जातीं हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार नौकरियों में शोषण वाली ठेका प्रणाली के विरुद्ध है, जिस कारण उन्होंने पंजाब के 36,000 से अधिक ठेके पर रखे मुलाजिमों की सेवाओं को रेगुलर करने की प्रक्रिया शुरू की है। भगवंत मान ने कहा कि उनकी सरकार ने शुक्रवार को राज्य के करीब 9000 अध्यापकों को रेगुलर करने के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। उन्होंने कहा कि यह यकीनी बनाया जा रहा है कि पक्के सरकारी कर्मचारी, लोगों को बढिय़ा प्रशासन मुहैया करवा सकें।

अन्य ख़बरें

शर्मिला ने टीआरएस की तुलना तालिबान से की

Newsdesk

भारत जोड़ो यात्रा में स्वरा भास्कर के शामिल होने पर भाजपा का हमला

Newsdesk

दक्षिण कोरियाई लड़की से छेड़छाड़ करने के मामले में मुंबई पुलिस ने दो आरोपियों को दबोचा

Newsdesk

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy